चाचा चौधरी की पुस्तक को लेकर गरमाई सियासत

Download PDF

मुंबई – बच्चों को सरलता से पढ़ाने के मकसद से पुस्तक में चाचा चौधरी का पाठ शामिल किया गया है। लेकिन इसे लेकर राज्य की सियासत गरमा गई है। एनसीपी सांसद सुप्रिया सुले ने शिक्षा मंत्री विनोद तावड़े को ट्युशन लेने की सलाह दे डाली है, तो पार्टी प्रवक्ता नवाब मलिक ने सीधे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोला है। मलिक का कहना है पीएम मोदी कई कोशिशें कर लें, परंतु बच्चों में उनकी लोकप्रियता नहीं बढ़ सकती। वे चाचा नेहरू का स्थान नहीं ले सकते।

चाचा चौधरी की पुस्तक के माध्यम से छोटे बच्चों में अपनी लोकप्रियता बढ़ाने की कोशिश की गई है। चाचा चौधरी पुस्तक के माध्यम से बच्चों को शिक्षा देने का काम प्रधानमंत्री मोदी की ओर से शुरु किया गया है। चाचा चौधरी पुस्तक के माध्यम से छोटे बच्चों में लोकप्रियता बढ़ाने की भले ही मोदी प्रयाश कर रहे हैं, लेकिन वे चाचा नेहरू की जगह नहीं ले सकते।

मलिक के मुताबिक प्रधानमंत्री मोदी की छवि और कद बढ़ावे के लिए विज्ञापनों पर लगभग चार हजार सौ करोड़ रुपए खर्च किए जा चुके हैं। परंतु न पीएम मोदी की छवि स्थापित हो सकी है और न ही लोकप्रियता बढ़ी है। अब नए में चाचा चौधरी की पुस्तक के माध्यम से छोटे बच्चों में अपनी लोकप्रियता बढ़ाने की कोशिश की गई है। चाचा चौधरी पुस्तक के माध्यम से बच्चों को शिक्षा देने का काम प्रधानमंत्री मोदी की ओर से शुरु किया गया है। चाचा चौधरी पुस्तक के माध्यम से छोटे बच्चों में लोकप्रियता बढ़ाने की भले ही मोदी प्रयाश कर रहे हैं, लेकिन वे चाचा नेहरू की जगह नहीं ले सकते।

इस दरम्यान मलिक ने पालघर और भंडारा-गोंदिया संसदीय सीट के उपचुनाव में ईवीएम मशीनों में आई गड़बड़ी की उच्च स्तरीय जांच कराने की मांग की। पालघर में निजी वाहन से ईवीएम मशीन ले जाने के मामले पर भी मलिक ने सवाल उठाए हैं। मलिक ने कहा है निजी वाहन से मशीन ले जाने का अर्थ है कहीं न कहीं मामला संगीन है। पेट्रोल-डीजल की मंहगी कीमतों को विरोध में मलिक के नेतृत्व में बुधवार को मुंबई के अणुशक्तिनगर में भव्य मोर्चा निकाला जाएगा।

 

Download PDF

Related Post