विषय का गहन अध्ययन किए बगैर आधारहीन आरोप – मुनगंटीवार

Download PDF

भाजपा का पलटवार  

मुंबई। चव्हाण के आरोपों से तिलमिलाई भाजपा ने जवाबी हमला बोला है। वित्त मंत्री सुधीर मुनगंटीवार ने कहा है कि अन्य नेताओं की तरह चव्हाण भी किसी विषय का गहन अध्ययन किए बगैर आधारहीन आरोप लगा रहे हैं। चुनावी साल में उनका यह प्रलोभन हो सकता है। परंतु पूर्व मुख्यमंत्री होने के नाते उनका  महाराष्ट्र की बदनामी करना उचित नहीं है। आज भी सबसे ज्यादा स्टार्ट अप महाराष्ट्र में हैं। पीएमओ में काम कर चुके मंत्री को इस तरह रिपोर्ट का अर्थ निकालना ठीक नहीं है। 

सबसे ज्यादा स्टार्ट-अप

वित्त मंत्री के अनुसार देश में कुल 14,036 स्टार्टअप हैं और जिनमें से 2787 स्टार्ट-अप महाराष्ट्र के हैं। महाराष्ट्र ने फरवरी 2018 में स्टार्ट-अप नीति की घोषणा की, और डीआईपीपी ने जिस रैंकिंग की घोषणा की, वह मई 2018 तक इस नीति के मूल्यांकन पर आधारित है। इस नीति को लागू करने के लिए सिर्फ 2 महीने की अवधि के साथ, महाराष्ट्र ने इमर्जिंग श्रेणी दी है। यह वर्गीकरण नीति का आकलन है, न कि सबसे स्टार्टअप राज्य का। सबसे ज्यादा स्टार्ट-अप के साथ महाराष्ट्र एक स्टार्टअप कैपिटल बन गया है। कृपया अपनी सुविधा के अनुसार तथ्य बताकर गुमराह न किया जाए। 

अग्रणी राज्य का दर्जा

वित्त मंत्री ने कहा कि सिंगापुर की  ली कान यू  संस्था ने अपनी रिपोर्ट में महाराष्ट्र को  ‘इज ऑफ डूइंग बिजनेस’ में अग्रणी राज्य का दर्जा दिया है।डीआईपीपी के मामले में, यह रेटिंग दो आधारों पर की गई थी। एक प्रत्यक्ष संयोजन और दूसरा धारणा डीआईपीपी में सुधार के लिए, महाराष्ट्र ने 97% आवश्यकताओं को पूरा किया है। आज देश में सबसे ज्यादा निवेश महाराष्ट्र में हो रहा है, जबकि निवेशकों की उम्मीद अन्य राज्यों की तुलना में महाराष्ट्र में अधिक है। इस प्रकार, महाराष्ट्र को प्रतिशतता सूचकांक में 93 फीसदी अंक मिले हैं।। पूरे देश की औद्योगिक विकास दर 4.4 प्रतिशत है, जबकि राज्य की विकास दर 6.5 प्रतिशत है।  पूर्व सीएम के पद पर रह चुके चव्हाण को गलत आंकड़े देकर जनता गुमराह नहीं करना चाहिए। 

Download PDF

Related Post