दस महीने में स्वाइन फ्लू से 322 की मौत

Download PDF
मुंबई । प्रदेश में बीते दस महीने में 322 लोगों की मृत्यू स्वाइन फ्लू की बीमारी से हुई है और 232 लोग अक्टूबर महीने में वेंटिलेटर पर रखे गए थे। यह जानकारी सोमवार को विधानसभा में स्वाथ्य मंत्री डॉ. दीपक सावंत ने दी। 
 कुल 2143622 मरीजों की जांच
विधायक हर्षवर्धन सकपाल सहित अन्य सदस्यों ने ध्यानाकर्षण प्रस्ताव के तहत इस संबंध में जानकारी मांगी थी। इसके जवाब में स्वास्थ्य मंत्री सावंत ने कहा कि कुल 2143622 मरीजों की जांच की गई। जिसमें से 45569 रोगियों में स्वाइन फल्यू के लक्षण पाए गए और उन्हें टैमीफल्यू दवा दी गई। इसमें से 2401 स्वाइन फल्यू के रोगी पाए गए, जिसमें से 322 रोगियों की मौत हो गई, जिसमें से अक्तूबर महीने में 232 रोगी वेंटिलेटर पर रखे गए थे। इसी तरह मुंबई मनपा के अंतर्गत जनवरी से अक्तूबर 2018 के बीच 919 मरीज डेंग्यू के पाए गए थे। जिसमें से 14 मरीजों की इलाज को दौरान मृत्यू हो गई। 30 सितंबर से 11 अक्टूबर 2018 के बीच 4 लोगों की मौत डेंग्यू से हुई थी।
 
सावंत के मुताबिक इस कालावधि में मलेरिया 43397 रोगी आए थे, जिसमें से 3 मरीजों की मृत्यू हुई। पिछले पांच वर्ष में मलेरिया के प्रमाण में कमी आई है। बीते वर्ष 2017 में 17710 मलेरिया के रोगियों में से 20 लोगों की मौत हुई थी। रोगों के निदान के लिए सरकार की ओर मुहिम चलाई जाती है। यैसे अभियानों में सभी सामाजिक संस्थाओं और घटकों का भी सहयोग लिया जाता है। स्वाइन फल्यू प्रभावित क्षेत्रों में सरकारी व निजी डाक्टरों द्वारा नियमित कार्यशाला का आयोजन किया जाता है।
Download PDF

Related Post