फूडमॉल, मल्टिप्लेक्स में  छपी कींमत से ज्यादा बिक्री करने पर  कार्रवाई 

Download PDF

मुंबई- राज्य के फूडमॉल और मल्टिप्लेक्स में खाद्य पदार्थों की बिक्री छपी कीमत से ज्यादा दर पर किए जाने की शिकायतें मिली है । अधिक दर पर बिक्री करने पर उन पर माप-तौल शास्त्र अधिनियम, 2009 और माप-तौल शास्त्र (आवेष्टित वस्तू) नियम 2011 के तहत कार्रवाई की जाएगी । यह जानकारी अन्न, नागरी आपूर्ति एवं ग्राहक सुरक्षा राज्यमंत्री रविंद्र चव्हाण ने आज  विधान परिषद में दी।

महाराष्ट्र चित्रपट गृह नियम 1966 की धारा 121 के तहत दर्शकों को सिनेमाहाल, फूडमॉल और  मल्टिप्लेक्स में खुद का खाद्य पदार्थ, पानी ले जाने से नहीं रोका जा सकता है। फिल्म शुरू होने पर सिनेमाहाल में खाद्य पदार्थ अथवा शीतपेय की बिक्री नहीं की जा सकती।

फूडमॉल व मल्टिप्लेक्स में खाद्य पदार्थों की बिक्री छपी कीमत से अधिक दर पर किए जाने की ध्यानाकर्षण सूचना विरोधी पक्ष नेता धनंजय मुंडे ने प्रस्तुत की थी । इसके जवाब में चव्हाण ने कहा कि महाराष्ट्र चित्रपट गृह नियम 1966 की धारा 121 के तहत दर्शकों को सिनेमाहाल, फूडमॉल और  मल्टिप्लेक्स में खुद का खाद्य पदार्थ, पानी ले जाने से नहीं रोका जा सकता है। फिल्म शुरू होने पर सिनेमाहाल में खाद्य पदार्थ अथवा शीतपेय की बिक्री नहीं की जा सकती। जैनेंद्र बक्षी द्वारा  उच्च न्यायालय में दाखिल की गई याचिका पर न्यायालय ने पदार्थों की अधिक दर पर बिक्री के संबंध में नीति निर्धारित करने का आदेश गृह विभाग को दिया है । उसके  अनुसार कार्यवाही शुरू है ।

चव्हाण ने कहा कि 2018 के आखिर में राज्य के मल्टिप्लेक्स, मॉल आदि 44 आस्थापनों की जांच की गई। छपी कीमत से ज्यादा दर पर  बिक्री करनेवाले  तीन संस्थानों के विरुद्ध अपराध दर्ज किया गया है । राज्य के सभी फूडमॉल और  मल्टिप्लेक्स, सिनेमागृह मालिकों को नियमानुसार काम करने, किसी पर बंधन न लगाने , ग्राहकों न रोकने का निर्देश दिया गया है । नियम का पालन न करनेवालों के खिलाफ 1 अगस्त से कठोर कार्रवाई करने का निर्देश संबंधितों को दिए गए हैं ।

Download PDF

Related Post