अलीबाग-मुरुड समुद्र तट पर बने अवैध बंगलों पर होगी कार्रवाई

Download PDF
मुंबई- अलीबाग और मुरुड परिसर में समुद्री किनारों पर बने अवैध बंगलों पर एक महीने के अंदर कार्रवाई की जाएगी। यह घोषणा पर्यावरण मंत्री रामदास आठवले ने की है। राज्य सरकार के इस कठोर कदम से अलीबाग और मुरूड में गृहनिर्माण क्षेत्र में निवेश करनेवालों की सांसे फूल गई हैं। 
 
अलीबाग की शांत और खूबसूरत वादियों में समुद्र किनारे कईयों ने बंगले बना रखे हैं। छुट्टियों में लोग समय बिताने वहां जाते हैं। बताया जाता है कि कई उद्योगपतियों और फिल्म इंडस्ट्री से जुड़े लोगों और कलाकारों के बंगले और फार्म हाउस हैं। कईयों ने बंगले और फार्म हाउस में पैसे का निवेश कर रखा है। यदि सरकारी कार्रवाई शुरू होती है तो उनकी मुश्किलें बढ़ सकती है।  रायगढ़ जिले के समुद्र किनारे बने अनधिकृत बंगलों को लेकर मंगलवार को मंत्रालय में जायजा बैठक बुलाई गई थी। इस बैठक में अनधिकृत बंगलों को लेकर विस्तृत चर्चा की गई। पर्यावरण मंत्री कदम ने कहा कि अलीबाग में 145 तो  मुरुड में  167 बंगले अनधिकृत हैं। इसमें से अलीबाग के 60 बंगले स्थानीय नागरिकों के हैं। इसीतरह मुरूड में स्थानीय लोगों के 50 बंगले हैं। कोर्ट ने कुल अनधिकृत बंगलों में से अलीबाग में 61 और मुरुड में 101 बंगलों पर स्थगन आदेश दिए हैं।
 
पर्यावरण मंत्री कदम ने कहा कि यहां ज्यादातर अवैध बंगले, फार्महाऊस उद्योगपतियों और फिल्मी हस्तियों के हैं। दोषी बंगला धारकों को एक लाख रुपए का दंड और 5 वर्ष कैद की सजा हो सकती है। पर्यावरण मंत्री कदम ने बताया कि एक महीने में सभी दस्तावेजों की जांच-पड़ताल की जाएगी। इसके बाद कार्रवाई की शुरूआत होगी। 
Download PDF

Related Post