मुंबई को लूट रहे अडानी और अंबानी – कांग्रेस 

Download PDF
मुंबई- कांग्रेस ने अनिल अंबानी और गौतम अडानी पर मुंबई को लूटने का आरोप लगाया है। पार्टी के मुंबई अध्यक्ष संजय निरूपम ने कहा है मुंबई उपनगर को बिजली आपूर्ति करनेवाली अंबानी की कंपनी रिलायंस इन्फ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड को अडानी ग्रुप द्वारा खरीदे जाने के बाद बिजली दर महंगी हो गई है। इससे पहले अंबानी ने बिजली दर बढ़ाकर मुंबईवासियों को लूटा अब अडानी लूट रहे हैं। अंबानी और अडानी दोनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मित्र हैं।

अंबानी और अडानी दोनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मित्र – निरुपम 

निरूपम के मुताबिक बिजली का निजीकरण करके मोदी सरकार अपने मित्र उद्योगपतियों को फाय़दा पहुंचाने के लिए प्रयासरत है। इस वर्ष अगस्त महीने में अनिल अंबानी ने दिवालिया हो चुकी अपनी रिलायंस इन्फ्रास्ट्रक्चर को 18,800 करोड़ रुपए में अडानी ग्रुप को बेचा था। इस लेनेदेन से 2000 करोड़ रुपए का अतिरिक्त बोझ मुंबईवासियों पर पड़ा है। यह अधिभार मुंबईकर क्यों भरें। रिलायंस एनर्जी और अडानी इलेक्ट्रिसिटी मुंबई लिमिटेड के बिजली बिल की तुलना करते हुए निरूपम ने बताया कि पहले की रिलायंस एनर्जी और अब की अडानी इलेक्ट्रिसिटी के दर में बेतहासा वृद्धि हुई है।
निरूपम के मुताबिक पाया जा रहा है कि 0-100 बिजली दर की श्रेणी में रिलायंस के बिल में निश्चित शुल्क प्रति महीने 55 रुपए थी, जो अब अडानी के बिल में बढ़कर प्रति माह 60 रुपए हो गई है। इसीतरह 101-300, 301-500 की श्रेणी में भी बिजली दर में बढ़ोतरी की गई है। इसके अलावा ईंधन समायोजन शुल्क दर, विलिंग शुल्क, प्रति यूनिट पर ऊर्जा शुल्क बढ़ाया गया है। इस तरह से मुंबई के बिजली ग्राहकों को लूटा जा रहा है। निरूपम ने कहा कि दिसंबर 2017 में रिलायंस इन्फ्रास्ट्रक्चर आणि अडानी ग्रुप के बीच हुए लेनेदेन के संबंध में उन्होंने महाराष्ट्र वीज नियामक आयोग से भी पूछा था।
Download PDF

Related Post