भाजपा की हिंसा का मुकाबला अहिंसा से किया जाएगाः अशोक चव्हाण

Download PDF

मुंबई- चुनाव जीतने के लिए भारतीय जनता पार्टी किसी भी हद तक जा सकती है। भाजपा जातीय विद्वेष फैलाकर समाज के लोगों को बांटने का काम कर रही है। भाजपा की ओर से फैलाई जा रही हिंसा का जवाब कांग्रेस पार्टी अहिंसा से देगी। यह बात महाराष्ट्र प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष और सांसद अशोक चव्हाण ने कही। उन्होंने महाराष्ट्र के लोगों से सामाजिक शांति औऱ सद्भावना बनाने की अपील की।

कांग्रेस की ओर से राज्य के सभी जिला मुख्यालयों पर एक दिवसीय अनशन करते हुए सरकार की नीतियों का विरोध किया गया। चव्हाण ने कहा कि भाजपा की द्वेषपूर्ण नीतियों के कारण देश ही नहीं बल्कि राज्य की सामाजिक शांति खतरे में आ गई है। समाज में विद्वेष फैल रहा है। कांग्रेस की ओर से इस प्रायोजित हिंसा का जवाब अहिंसा से दिया जाएगा।

कांग्रेस की ओर से राज्य के सभी जिला मुख्यालयों पर एक दिवसीय अनशन करते हुए सरकार की नीतियों का विरोध किया गया। चव्हाण ने कहा कि भाजपा की द्वेषपूर्ण नीतियों के कारण देश ही नहीं बल्कि राज्य की सामाजिक शांति खतरे में आ गई है। समाज में विद्वेष फैल रहा है। कांग्रेस की ओर से इस प्रायोजित हिंसा का जवाब अहिंसा से दिया जाएगा। सोमवार को राज्य के सभी जिला मुख्यालयों पर एक दिवसीय सांकेतिक अनशन किया गया। मराठवाड़ा के परभणी जिले में कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने उपवास कर भाजपा सरकार की नीतियों का विरोध किया।

पूर्व मुख्यमंत्री चव्हाण ने भाजपा सरकार की सांप्रदायिक नीतियों पर प्रहार करते हुए कहा कि भाजपाशासित राज्यों में आज दलितों, आदिवासियों और अल्पसंख्यकों पर अत्याचार के मामले बढ़े हैं। इस प्रकार की गतिविधियों में लिप्त होकर जातीय दंगा कराने का प्रयास भाजपा कर रही है। भाजपा के कार्यकर्ताओं पर कई दंगों में शामिल होने की बात साबित होने पर भी इन लोगों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई है। भीमा कोरेगांव जैसी घटनाओं की मदद से मराठा और दलित समाज के बीच मतभेद पैदा किए जा रहे हैं। अपने राजकीय स्वार्थ के लिए सत्ताधारी दल किसी भी हद तक जा रहा है। यह चिंताजनक बात है। भाजपा सत्ता पाते ही देश तोड़ने का काम करने लगी है। उन्होंने परिवर्तन के लिए कार्यकर्ताओं को तैयार रहने की अपील की।

पूर्व गृहमंत्री सुशील कुमार शिंदे के नेतृत्व में सोलापुर में, विधानसभा विरोधी पक्षनेता राधाकृष्ण विखे पाटील के नेतृत्व में नाशिक, विधान परिषद के उपसभापति माणिकराव ठाकरे, पूर्व मंत्री वसंत पुरके, शिवाजीराव मोघे के नेतृत्व में यवतमाल, पूर्व मंत्री हर्षवर्धन पाटील के नेतृत्व में पुणे, पूर्व केंद्रीय मंत्री विलास मुत्तेमवार के नेतृत्व में नागपुर और विधायक अमिता चव्हाण के नेतृत्व में नांदेड समेत राज्य के सभी जिला मुख्यालयों पर एक दिवसीय उपवास किया गया।

 

Download PDF

Related Post