Asia’s smallest baby girl seta weighing only 400 grams survives!

Download PDF

एशिया की सबसे छोटी बच्ची 400 ग्राम की!

उदयपुर: सीता के माता-पिता के लिए यह नया साल सचमुच एक नया साल है। जब सीता की मां ने केवल 21 सप्ताह पहले उसे 15 जून, 2017 को जन्म दिया था तब सीता केवल 14 औंस अर्थात 400 ग्राम का वजन था।

डॉक्टरों के अनुसार सीता एक चॉकलेट बार के बराबर पैदा हुई थी. सीता का जन्म उसके माँ पिता की शादी के 35 साल बाद हुई जब उसकी माँ की उम्र 48 वर्ष थी. गर्भावस्था के समय सीता की माँ को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा. अल्ट्रासाउंड रिपोर्ट में पता चला कि भ्रूण को रक्त प्रवाह नहीं मिल रहा है।

दुनिया का सबसे काम वजन का बच्चा पैदाइश के समय मात्रा ९.२ औंस यानि २६०.८ ग्राम का था. मेलिंडा स्टार गिडो अब 7- वर्ष की एक स्वस्थ बच्ची है

इसके तुरंत बाद, बच्चों के अस्पताल जीवांता के डॉक्टरों ने सीता के जन्म का आपातकाल में निर्णय लिया। जब बच्चा पैदा हुआ तब उसका वज़न केवल 400 ग्राम वजन और उसकी लम्बाई मात्र 8.6 इंच थी. उसका दिमाग, फेफड़े, गुर्दे और दिल अविकसित था। यहां तक​कि वह साँस लेने में भी सक्षम नहीं थी. उसे न्यूबार्न इंटेंसिव केयर यूनिट में लाया गया था, और वेंटिलेशन पर डाल दिया गया।

अस्पताल ने उनके लिए एक विशेष मेडिकल बोर्ड बनाया था। उनके पोषण, रक्त परिसंचरण, और समग्र विकास के लिए भी बालरोग विशेषज्ञ नियुक्त किये गए थे. जीवांता अस्पताल के एक डॉक्टर ने कहा, सीता को संक्रामक बीमारी से बचा के रखना सबसे बड़ी चुनौती थी. उसे 6 महीनों की जद्दोजहद के बाद इस गुरुवार को छुट्टी मिल गई।

दुनिया का सबसे काम वजन का बच्चा पैदाइश के समय मात्रा ९.२ औंस यानि २६०.८ ग्राम का था. मेलिंडा स्टार गिडो अब 7- वर्ष की एक स्वस्थ बच्ची है. दूसरे नंबर का बच्चा जन्म के समय ९.९ औंस अर्थात 280.6 ग्राम वजन का था. वो आज कल एक मनोविज्ञान कॉलेज में अध्ययनरत है। दुनिया का तीसरे नंबर का सबसे छोटा बच्चा रमैसा रहमान सिर्फ 9 .23 औंस वजन का था जो 18 सप्ताह के भ्रूण के बराबर आकार था।

Download PDF

Related Post