कांग्रेस ने किया दूसरे स्वतंत्रता संग्राम का ऐलान 

Download PDF

वर्धा, सेवाग्राम आश्रम में कांग्रेस की राष्ट्रीय कार्यसमिति की बैठक की शुरूआत हुई। यहां 76 वर्ष बाद कांग्रेस की बैठक हो रही है। गांधी जयंती पर  कांग्रेस ने दो प्रस्ताव पारित किए। पहला प्रस्ताव ‘बंटवारे, भय और बंटवारे’ के खिलाफ और दूसरा प्रस्ताव किसानों पर ‘बर्बरता’ की निंदा करते हुए पारित किया गया। कांग्रेस की सीडब्ल्यूसी ने मोदी सरकार के खिलाफ दूसरा स्वतंत्रता संग्राम छेड़ने का ऐलान किया है। 

कांग्रेस का नया नारा: “लूट-झूट-भयबंटवारे का संग्राम, फिर सेवाग्राम !”

कांग्रेस ने मोदी सरकार पर हिंसा और घृणा की विचारधारा का आरोप लगाया और इसके खिलाफ दूसरे स्वतंत्रता संग्राम का ऐलान किया। पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने सेवाग्राम आश्रम मेें बैठक के बाद पैदल मार्च निकाला और जनसभा को भी संबोधित किया। किसानों पर किए गए लाठीचार्ज का मुद्दा बैठक में भी गूंजा।  राहुल गांधी, सोनिया गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेन्द्र सिंह हुड्डा ने इस मसले पर गहन चर्चा की। पार्टी किसानों की लड़ाई पुरजोर ढंग से लड़ेगी। कार्य समिति की बैठक में दो प्रस्ताव पारित किए गए। कांग्रेस ने मोदी सरकार की तुलना अंग्रेजी हुकूमत से की है।

बापू कूटी में महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के मौके पर सोनिया गांधी और राहुल गांधी सहित कांग्रेस के कई वरिष्ठ खुद अपनी प्लेट धोते दिखाई दिए। इससे पहले राहुल गांधी और पार्टी के कई अन्य वरिष्ठ नेता आश्रम में आयोजित प्रार्थना सभा में भी शामिल हुए। राष्ट्रपिता अपने जीवन के आखिरी कुछ वर्षों के दौरान यहां रहे थे।

Download PDF

Related Post