सड़कों के खढ्ढो में भष्ट्राचार, ठेकेदारों से दलाली – कांग्रेस 

Download PDF
मुंबई- कांग्रेस ने मुंबई की सड़कों के गड्ढों में ही बडे पैमाने में भष्ट्राचार होने का आरोप लगाया है । पार्टी के मुंबई अध्यक्ष संजय निरूपम ने कहा कि 48 घंटे में मुंबई के सभी खढ्र्ढे भरने का आश्वासन बीएमसी ने दिया था। आज उसका आखिरी दिन था,  बावजूद इसके सड़कों पर खढ्ढे नजर आ रहे हैं । यह शिवसेना – भाजपा प्रणित महापालिका और राज्य सरकार की बड़ी असफलता है ।
निरुपम ने कहा कि बीएमसी का 30 हजार करोड़ रुपए का बजट है । उसमें से 3 हजार करोड़ रुपए सड़क के कामों के लिए खर्च किया जाता है। फिर भी मुंबई की सड़कों की स्थिति दयनीय है। काली सूची में शामिल ठेकेदारों की कंपनी का नाम बदलकर उन्हीं को ठेके दिए गए हैं।  48 घंटे की डेडलाइन खत्म होने को है, परंतु मुंबई के सभी रास्तों पर खड्डे ही खड्डे हैं।पूरी मुंबई खढ्ढे से भरी पड़ी है । 
निरूपम ने आरोप लगाया कि शिवसेना -भाजपा के नेताओं को, बीएमसी में बैठकर ठेकेदारों से दलाली खाने में ज्यादा रुचि है । बांद्रा पश्चिम के शर्ली राजन रोड पर पार्टी की ओर से आयोजित किए गए गड्ढा गिनों आंदोलन को निरूपम संबोधित कर रहे थे। निरुपम ने कहा कि 48 घंटे की डेडलाइन खत्म होने को है, परंतु मुंबई के सभी रास्तों पर खड्डे ही खड्डे हैं।पूरी मुंबई खढ्ढे से भरी पड़ी है । निरुपम ने कहा कि बीएमसी का 30 हजार करोड़ रुपए का बजट है । उसमें से 3 हजार करोड़ रुपए सड़क के कामों के लिए खर्च किया जाता है। फिर भी मुंबई की सड़कों की स्थिति दयनीय है। काली सूची में शामिल ठेकेदारों की कंपनी का नाम बदलकर उन्हीं को ठेके दिए गए हैं। इसमें मनपा अधिकारियों, स्थानीय  नगरसेवकों, मनपा आयुक्त ने पैसे खाएं हैं। बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार हुआ है। पूरा मनपा प्रशासन भ्रष्टाचार से गुथा हुआ है ।
 निरुपम के मुताबिक मुख्यमंत्री ने नागपुर विधानभवन में कहा कि मुंबई के सभी रास्तों के खड्डे को भर दिया गया है । मुंबई मनपा आयुक्त ने स्टैडिंग कमिटी की बैठक में कहा था कि मुंबई में सब कुछ ठीकठाक चल रहा है । लेकिन  शर्ली राजन रोड की गिनती में लगभग 150 खढ्ढे पाए गए हैं । कुुुछ खढ्ढेे हमने भरे हैं । हमारा सोयी हुई मनपा और सरकार को जगाने का प्रयास है । सड़कों को खढ्ढामुक्त बनाने की जिम्मेदारी मनपा और सरकार की है । लेेेकिन मनपा और सरकार असफल साबित हुई  है। इसके लिए जनता से माफ़ी मांगे। बीते दो दिनों कल्याण और सानपाडा में  5 लोगों की जान गई है ।
निरुपम ने आरोप लगाया कि  नंबर एक सड़के बनाने की प्रक्रिया में बडे पैमाने पर भ्रष्टाचार हुआ है । सड़क बनाने वाले ठेकेदारों से  शिवसेना – भाजपा के  लोगों ने दलाली  और कमिशन खाया है। ब्लैकलिस्टेड ठेकेदारों को काम के ठेके दिए गए । लिहाजा घटिया दर्जे का काम हुआ है ।निरुपम ने कहा कि मुंबई की सड़कों पर जो खढ्ढे हुए हैं, उसे भरने के लिए 2,500 टन कोल्ड मिक्स की आवश्यकता है। परंतु  मौजूदा समय में मुंबई महापालिका के पास कुल 40 टन कोल्ड मिक्स उपलब्ध है। यैसे में  40 टन कोल्ड मिक्स से रातो-रात मुंबई के सभी रास्तों के खढ्ढे भरना कैसे संभव है ।
Download PDF

Related Post