प्रोफ़ेसरों की मांग पर जल्द होगा फैसला- शिक्षा मंत्री तावड़े 

Download PDF
मुंबई- सातवां वेतन लागू करने के सहित अन्य मांगों को लेकर राज्य के प्रोफेसर मंगलवार से बेमियादी हड़ताल पर चले गए हैं। इधर उच्च एवं स्कूली शिक्षा मंत्री विनोद तावड़े ने स्पष्ट किया है प्रोफेसरों की मांगों पर सरकार सकारात्मक विचार कर रही है। जल्द मसले का हल निकाल लिया जाएगा। उन्होंने हड़ताल खत्म होने की उम्मीद जताई है।

प्रोफेसर मंगलवार से बेमियादी हड़ताल पर

शिक्षा मंत्री तावड़े ने मंगलवार को प्रोफेसरों के संगठन के पदाधिकारियों से चर्चा की। बैठक में सातवां वेतन आयोग, रिक्त पदों पर भर्ती जैसी विभिन्न मांगों पर चर्चा की गई। इन मामलों में सरकार की ओर से की जा रही कोशिशों की जानकारी पदाधिकारियों को दी गई। बैठक में हुई बातचीत के मिनिट्स संगठन को दिए जाएंगे। बैठक में पूर्व विधायक बी. टी. देशमुख, विधायक दत्तात्रय सावंत, विधायक श्रीकांत देशपांडे, अखिल भारतीय राष्ट्रीय शैक्षणिक महासंघ के डॉ. अनिल कुलकर्णी, प्राध्यापक वैभव नरवडे, प्रदीप खेडेकर, एम फुक्टो शिक्षक संगठन के महासचिव  डॉ. लवांडे सहित अन्य पदाधिकारी मौजूद थे। शिक्षा मंत्री ने भरोसा दिलाया है जल्द सभी मसलों का हल निकाल लिया जाएगा।
अपनी मांगों को लेकर मंगलवार से प्रोफेसर बेमुद्दत हड़ताल पर चले गए हैं। उन्होंने फैसला किया है जब तक उनकी मांग मान नहीं ली जाती, वे कॉलेज तो आएंगे लेकिन कोई काम नहीं करेंगे। उनकी प्रमुख मांगों में सातवां वेतन, छठवां वेतन आयोग की विसंगतियां दूर करने, 71 दिन का लंबित वेतन, घंटे के आधार पर मानधन, रिक्त पदों पर भर्ती, डीसीपीएस रद्द कर पुरानी पेंशन योजना, सेवानिवृत्ति की आयु बढ़ाने, उच्च शिक्षा कार्यालय के संचालक और सहसंचालक के मनमानी कामकाज पर अंकुश लगाने सहित अन्य मांगें शामिल हैं।
Download PDF

Related Post