चुनाव प्रणाली भ्रष्ट, सभी दल उठाएं आवाज- उद्धव ठाकरे

Download PDF
मुंबई- पालघर लोकसभा उपचुनाव के नतीजे आने के बाद शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने चुनाव आयोग पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि चुनाव प्रणाली पूरी तरह से भ्रष्ट हो गई है, जिससे लोकतंत्र पर संकट निर्माण हो गया है। सभी राजनीतिक दलों को चुनाव आयोग के खिलाफ आवाज उठानी चाहिए।
चार साल में ही आम जनता भाजपा को नकारने लगी है और उसके प्रत्याशी कई जगह पराजित हुए हैं। भाजपा ने विश्वसनियता खो दी है। यूपी के कैराना में भी भाजपा को कड़ी शिकस्त मिली है। वहां की जनता ने मुख्यमंत्री योगी की मस्ती उतार दी है – उद्धव 
उद्धव ठाकरे ने कहा कि वे इस पराजय को पराजय नहीं मानते। शिवसेना ने पहली बार यहां चुनाव लड़ा, जनता ने पार्टी का भरपूर साथ दिया है। इसके लिए वे स्थानीय जनता और पार्टी कार्यकर्ताओं का आभार मानते हैं। शिवसेना ने भाजपा के पसीने छुड़ा दिए। शिवसेना ने जो वादे किए हैं। वह पूरा किया जाएगा। उद्धव ने कहा कि पार्टी फैसला कर चुकी है कि अगला चुनाव स्वयं बल पर लड़ा जाएगा। हम अपने फैसले पर अडिग हैं। इस दौरान अफवाहें उड़ी थी कि उद्धव सरकार से बाहर होने की घोषणा कर सकते हैं। लेकिन उद्धव ने यैसा कोई घोषणा नहीं की। हालांकि उन्होंने कहा कि आगामी चुनाव पार्टी अपने दम पर लड़ेगी। उद्धव ने कहा कि पूर्व सांसद चिंतामन वनगा के निधन के बाद भाजपा ने वनगा परिवार को भूला दिया था। इसलिए वनगा परिवार उनसे मिलने आया था। इसके बाद ही उन्होंने वनगा परिवार को न्याय दिलाने के लिए पालघर में चुनाव लडऩे का निर्णय लिया था। उद्धव ने कहा कि यहां जिस तरीके से चुनाव प्रणाली ने काम किया है ,वह धक्कादायक है। यहां चुनाव प्रचार में जो लोग पैसे बांटते हुए पकड़े गए, वहीं लोग भाजपा की जीत पर नाचते हुए देखे गए हैं। लेकिन भ्रष्ट्र चुनाव आयोग ने किसी भी तरह की कार्रवाई नहीं किया है।
उद्धव ने कहा कि चार साल में ही आम जनता भाजपा को नकारने लगी है और उसके प्रत्याशी कई जगह पराजित हुए हैं। भाजपा ने विश्वसनियता खो दी है। यूपी के कैराना में भी भाजपा को कड़ी शिकस्त मिली है। वहां की जनता ने मुख्यमंत्री योगी की मस्ती उतार दी है। उद्धव ने कहा कि ऐन चुनाव वाले दिन अचानक पालघर में एक लाख मतदाता किस तरह बढ़ें, इसका जवाब अभी तक किसी भी संबंधित अधिकारी अथवा सरकार ने नहीं दिया है। उद्धव ने कहा कि संबधित अधिकारी को निलंबित कर मामले की जांच कराई जानी चाहिए।
Download PDF

Related Post