गडकरी ने भी माना पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ने से जनता परेशान 

Download PDF

मुंबई – देशभर में लगातार बढ़ रही पेट्रोल और डीजल की कीमतों को लेकर केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने भी चिंता जताई है। गडकरी ने भी माना है कि ईँधन की दर में बड़े पैमाने पर वृद्धि हुई है जिससे जनता परेशान हो रही है। हालांकि उन्होंने उम्मीद जताई है आगामी दिनों में कच्चे तेल की कीमतें कम होने से, पेट्रोल-डीजल के दाम घटेंगे। 

आगामी दिनों में कच्चे तेल की कीमतें कम होने से, पेट्रोल-डीजल के दाम घटेंगे

गडकरी ने बुधवार को मुंबई के ट्राइडेंट होटल में आयजित ब्लूमबर्ग इंडिया इकनॉमिक फोरम में हिस्सा लिया। साथ ही उन्होंने फिल्म अभिनेता नाना पाटेकर के घर जाकर गणपति का दर्शऩ किया। इकनॉमिक फोरम  को संबोधित करते हुए गडकरी ने पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों पर चिंता जताई। गडकरी ने कहा कि ईंधनों की कीमतों में बेतहासा वृद्धि हुई है। महंगाई के कारण जनता को कई कठिनाईयों का सामना करना पड़ रहा है। हालांकि गडकरी ने आगामी दिनों में अंतरराष्ट्रीय मार्केट में कच्चे तेल की कीमतें कम होने से पेट्रोल-डीजल के दाम घटने का संभावना जताई। इन परिस्थितियों में भी गडकरी ने विश्वास जताया वर्ष 2019 के चुनाव में भाजपा फिर बहुमत के साथ सत्ता में आएगी। नरेंद्र मोदी देश के प्रधानमंत्री हैं और हम सब उनके साथ हैं। आगामी लोकसभा चुनाव के बाद भी मोदी हमारे प्रधानमंत्री रहेंगे। 

पिछले कई दिनों से पेट्रोल और डीजल के दाम लगातार बढ़ रहे हैं। राज्य में कई जिलों में पेट्रोल के दाम प्रतिलीटर 90 रुपए को पार कर गया था। बीते दिनों नंदुरबार, नांदेड, परभणी, लातुर, जलगांव, बीड, औरंगाबाद और रत्नागिरी में पेट्रोल की दर प्रति लीटर 90 रुपए तक पहुंच गई थी। मुंबई बीते मंगलवार को पेट्रोल 89.54 रुपए प्रति लीटर और डीजल 78.42 रुपए प्रति लीटर तक पहुंच गया था। ईंधर वृद्धि और महंगाई के कारण जनता हलकान हो रही है। भाजपा सरकार विपक्ष के लगातार निशाने पर हैं। विधान सभा में विपक्ष के नेता राधाकृष्ण विखे पाटिल ने वित्त मंत्री सुधीर मुनगंटीवार से वैट की दरों में कटौती करने की मांग की है। 

Download PDF

Related Post