स्वास्थ्य मंत्री ने लगवाया अपने पोता-पोती को गोवर-रुबेला का टीका 

Download PDF

मुंबई। राज्य में गोवर-रुबेला टीकाकरण अभियान को अच्छा प्रतिसाद मिल रहा है और अब तक इस अभियान के अंतर्गत डेढ़ करोड़ बच्चों को टीका लगाया गया है। आज स्वास्थ्य मंत्री डॉ. दीपक सावंत ने अपने दो पोता और पोती को टीका लगवाते हुए अभियान के लिए सकारात्मक संदेश दिया है। विलेपार्ले स्थित सीएनएमएस स्कूल में आयोजित टीकाकरण सत्र में स्वास्थ्य मंत्री ने स्वयं उपस्थित रहकर स्कूल में पढ़ रहे अपने पोता-पोती को टीका लगवाया है।

भियान के लिए सकारात्मक संदेश

राज्य में 27 नवंबर से गोवर-रुबेला टीकाकरण अभियान शुरू है।  छह सप्ताह के इस अभियान के अंतर्गत इन दिनों स्कूलों में टीकाकरण सत्र आयोजित किया जा रहा है और इस सत्र में छात्रों को टीका लगाया जा रहा है। राज्य में प्रतिदिन साधारणत: 10 लाख बालकों को टीका लगाने का लक्ष्य रखा गया है। अब तक तकरीबन डेढ़ करोड़ बालकों का टीकाकरण किया गया है। इससे राज्य का 45 फीसदी लक्ष्य पूरा होने की बात स्वास्थ्यमंत्री ने कहीं।

कुछ जगहों पर इस टीकाकरण अभियान के संदर्भ में परिजनों के मन संदेह है और संदेहास्पद स्थिति के कारण  परिजनों ने टीकाकरण न करने की भूमिका स्कूलों को बताई है। लेकिन यह टीका पूरी तरह सुरक्षित होने की बात कहते हुए अपने पोता और पोती को भी यह टीका लगवाने की जानकारी स्वास्थ्यमंत्री ने इस अभियान पर आयोजित पत्रकार परिषद में दी। विलेपार्ले स्थित सीएनएमएस स्कूल में मुंबई महापालिका की ओर से टीकाकरण सत्र आयोजित किया गया था। इस सत्र के दौरान स्वास्थ्य मंत्री डॉ. सावंत स्वयं उपस्थित रहकर अपने पोता-पोती को टीका लगवाया।  

स्वास्थ्य मंत्री की पोती रिया (आयु 7 वर्ष),इस स्कूल में पहली कक्षा में पढ़ती है और पोता रोहित (आयु 4 वर्ष)  शिशु समूह में है। गुरुवार सुबह 11 बजे  के दौरान दोनों बच्चों ने अपने दादाजी की उपस्थिति में और अपने दादाजी की गोद में बैठकर टीका लगवाया। इस दौरान स्वास्थ्यमंत्री के बेटे डॉ. स्वप्नेश और बहू अनुष्का भी उपस्थित थी। इस अभियान के प्रति किसी भी प्रकार का संदेह न रखते हुए परिजनों से अपने बच्चों को गोवर-रुबेला का टीका लगवाने का आवाहन स्वास्थ्यमंत्री ने किया है।

Download PDF

Related Post