विद्यार्थियों के कैरियर मार्गदर्शन के लिए “हम छू लेंगे आसमां” योजना

Download PDF

भोपाल, राज्य सरकार द्वारा विद्यार्थियों के कैरियर मार्गदर्शन के लिएहम छू लेंगे आसमांयोजना आरंभ की जा रही है । योजना का शुभारंभ 21 मई को मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान माडल स्कूल भोपाल में प्रात: 10 से 11 बजे तक छात्र-छात्राओं से स्वयं फोन पर बात करेंगे। प्रदेश भर से छात्र-छात्राएं टेलीफोन नम्बर 0755-2770020 पर मुख्यमंत्री को कॉल कर सकते हैं।

हम छू लेंगे आसमां योजना में 12 वीं में 70 प्रतिशत अथवा इससे अधिक अंक प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों को 21 से 31 मई तक तथा कक्षा 12 वीं में 70 प्रतिशत से कम अंक प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों को 4 जून से 14 जून 2018 तक विभिन्न कैरियर और अकादमिक विकल्पों के बारे में काउंसलिंग विशेषज्ञों द्वारा मार्गदर्शन दिया जायेगा। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने लटेरी में पॉलीटेक्निक कालेज भवन का लोकार्पण भी आज किया।

इस योजना में 12 वीं कक्षा में उत्तीर्ण विद्यार्थियों को भविष्य में विभिन्न कैरियर्स तथा अकादमिक विकल्पों के बारे में आधुनिक तकनीक एवं काउंसलिंग विशेषज्ञों द्वारा मार्गदर्शन दिया जाएगा। साथ ही, 11वीं एवं 12वीं परीक्षा में अनुत्तीर्ण छात्र-छात्राओं को भी कौशल विकास, स्वरोजगार एवं रोजगार के विभिन्न विकल्पों से अवगत कराया जाएगा।

हम छू लेंगे आसमां योजना में 12 वीं में 70 प्रतिशत अथवा इससे अधिक अंक प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों को 21 से 31 मई तक तथा कक्षा 12 वीं में 70 प्रतिशत से कम अंक प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों को 4 जून से 14 जून 2018 तक विभिन्न कैरियर और अकादमिक विकल्पों के बारे में काउंसलिंग विशेषज्ञों द्वारा मार्गदर्शन दिया जायेगा। इनके अलावा, कक्षा 10वीं पास और कक्षा 11वीं अथवा 12 वीं के अनुत्तीर्ण विद्यार्थियों को भी कौशल विकास, स्व-रोजगार एवं रोजगार के विभिन्न विकल्पों के बारे में 18 से 28 जून 2018 तक मार्गदर्शन दिया जायेगा।

जिलों में नियुक्त होंगे काउंसलर

हम छू लेंगे आसमां योजना के सफल क्रियान्वयन के लिए उच्च शिक्षा, स्कूल शिक्षा, तकनीकी शिक्षा, कौशल विकास एवं रोजगार विभागों द्वारा प्रत्येक जिले में काउंसलर की नियुक्ति की जाएगी। अतिरिक्त आवश्यकता होने पर कलेक्टर अपने स्तर पर काउंसलर्स की नियुक्ति कर सकेंगे। प्रत्येक जिले में दो अथवा दो से अधिक काउंसलिंग सेंटर जिला स्तरीय क्रियान्वयन समिति द्वारा स्थापित किए जाएंगे। काउंसलिंग सेंटर्स स्थापित करते समय सैद्धांतिक कक्षा और आईटी लैब की गुणवत्ता सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए हैं ताकि ऑफलाइन एवं ऑनलाइन, दोनों प्रकार से काउंसलिंग हो सके। जिला स्तर के उत्कृष्ट विद्यालय तथा उच्च शिक्षा के जिला स्तरीय कॉलेज काउंसलिंग केन्द्र रहेंगे। विस्तृत जानकारी के लिए छात्र-छात्राएं जिले के उत्कृष्ट विद्यालय में सम्पर्क कर सकते हैं।

समिति गठित

जिला स्तर पर योजना के सफल क्रियान्वयन के लिये कलेक्टर की अध्यक्षता में समिति गठित की गई है। समिति में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी, उच्च शिक्षा विभाग के लीड कॉलेज के प्राचार्य, जिला स्तरीय आईटीआई/ इंजीनियरिंग/पॉलीटेक्निक कॉलेज का प्राचार्य और जिला रोजगार अधिकारी सदस्य होंगे। जिला शिक्षा अधिकारी इस समिति के नोडल अधिकारी होंगे।

Download PDF

Related Post