आईपीएल मैच पर दो करोड़ बकाया

Download PDF
मुंबई- प्रदेश में आयोजित होनेवाली आईपीएल और अन्य क्रिकेट प्रतियोगिता की सुरक्षा व यातायात व्यवस्था के लिए पुलिस बल तैनात किए जाते है। लेकिन सुरक्षा के लिए दी गई पुलिल बल का भुगतान न होने पर महालेखा परीक्षक की रिपोर्ट में सवाल उठाए गए हैं। 
विदर्भ क्रिकेट संगठन नागपुर पर रु 0.2 करोड़ और विदर्भ क्रिकेट संगठन, नागपुर ग्रामीण पर 1.54 करोड़ रुपए, कुल मिलाकर 1.74 करोड़ रुपए बकाया है। महालेखा परीक्षक ने बकाया रकम वसूल न किए जाने पर आपत्ति जताई है।
 
विदर्भ क्रिकेट संगठन नागपुर पर रु 0.2 करोड़ और विदर्भ क्रिकेट संगठन, नागपुर ग्रामीण पर 1.54 करोड़ रुपए, कुल मिलाकर 1.74 करोड़ रुपए बकाया है। महालेखा परीक्षक ने बकाया रकम वसूल न किए जाने पर आपत्ति जताई है। आईपीएल-20 क्रिकेट मैच पूरी तरह से व्यावासयिक खेल है। इसलिए बकाया रकम तत्काल वसूली जानी चाहिए। यदि रकम वसूल नहीं की जाती है तो आगे से होनेवाले मैच में पुलिस बंदोबस्त परिस्थिति के अुनसार न देने का निर्णय लेने की सिफारिश समिति ने की है। इसी प्रकार मुद्रांक शुल्क, रजिस्ट्री शुल्क, दंड वसूली में नियमनुसार न होने के कारण सरकार को करोड़ों रुपए राजस्व का नुकसान हुआ था। महालेखा परीक्षक की आपत्ति दर्ज कराए जाने के बाद सभी मामले में करोड़ों रुपए की वसूली राजस्व विभाग ने की है। 
 
केबल टीवी रेग्युलेशन एक्ट पर नहीं है नियंत्रण
केबल टीवी रेग्युलेशन एक्ट कानून केंद्र सरकार का कानून है। इस कानून पर राज्य सरकार का कोई नियंत्रण नहीं है। यह सत्य है, परंतु इस केबल वायरिंग के कारण स्थानीय स्तर पर नगारिकों को होनेवाली भारी परेशानी पर ध्यान देने की आवश्यकता है। इस संबंध में केंद्र सरकार से पत्र व्यवहार करके केबल वायर के संदर्भ में योग्य नीति और योजना बनाने की सिफारिश समिति ने की है। 
Download PDF

Related Post