Kanhaiya Kumar

Download PDF

कन्हैया कुमार: स्टार युवा नेता

नीलम जीना
6dnews, New Delhi

कन्हैया कुमार एक ऐसा चेहरा है जो एक उभरता हुआ स्टार युवा नेता है। कन्हैया कुमार जेएनयू के छात्र संघ के प्रेजिडेंट रह चुके है और अभी आल इंडिया स्टूडेंट फेडरेशन के सदस्य है। कन्हैया कुमार भारत में हो रहे दलितों और अल्पसंख्यकों पर अत्याचार के खिलाफ अपनी आवाज उठाते है। वह अक्सर अपने भाषण में मोदी की घटिया नीतियों के बारें में पोल खोलते ही रहते हैं। कन्हैया कुमार हमेशा बेबाक और बिंदास अंदाज़ में बोलते हैं। इसके अलावा कन्हैया कुमार भक्तों के फर्जी राष्ट्रवाद की पोल खोलना इनका मकसद रहता हैं।

क्योंकि ये लोग राष्ट्रवाद की आड़ में ऐसे-ऐसे कारनामे अंजाम देते है जो हमारे देश और समाज दोनों के लिए सही नहीं है। वैसे भी हमारे देश में इन दिनों बहुत ज्यादा हिन्दू-मुस्लिम मुद्दों को उठाया जा रहा है। एक बार एक प्रोग्राम के दौरान भी कन्हैया कुमार ने बताया था कि, ‘मोदी जी काम तो कुछ करते है नहीं बल्कि असल मुद्दों से ध्यान हटाने के लिए हमारे बीच रोज कोई न कोई नया मुद्दा ला देते हैं।’

कन्हैया कुमार बताते है कि, मोदी सरकार कभी तो हमारे बीच रोहित का मुद्दा ला देती है तो कभी नजीब, ये सिर्फ मुद्दे फेंकने का काम कर रही है।’ लेकिन हमें ही इस बात को समझना होगा कि, मोदी सरकार जो हमारे बीच रोज नए मुद्दे ला रहे हैं इसलिए आज की जरुरत है कि, हमारे देश के युवा नेता होना चाहिए जो हमारे बीच रहकर एक युवा जोश की तरह काम कर सके। इसके लिए कन्हैया कुमार का बना हुआ एक गाना बहुत ही मशहूर है जो बहुत पसंद भी किया जाता हैं।

इस गाने को आज़ादी के नाम से जाना जाता है और इसके बोल कुछ इस तरह है हम क्या चाहते आज़ादी ‘गरीबी से आजादी, संघवाद से आजादी, मनुवाद से आज़ादी, हर भुखमरी से आजादी, अडानी से आज़ादी, अंबानी से आज़ादी’। इस तरह के बोल है और इन नारों को सब साथ मिलकर लगाते है एक ही धुन में, लेकिन इस आज़ादी के गाने को सुनकर भक्तों को 440 वाट का जोरदार झटका लग जाता हैं।

Download PDF

Related Post