लोकशाही: सीएम ने निपटाए 1505 आवेदन

Download PDF

मुंबई-  मुख्यमंत्री फडणवीस ने सोमवार को अपने सरकारी आवास वर्षा  पर मंत्रालय लोकशाही दिन में प्राप्त हुए आवेदनों  की सुनवाई की। मुख्यमंत्री ने नवंबर अंतिम तक प्राप्त हुए 1505 आवेदन में से 1501 आवेदन की शिकायतों का निपटारा किया। शेष चार आवेदनों  पर भी उन्होंने तत्काल फैसला किया। 

वेणेखोल गांव के पुनर्वास के लिए जल्द ही भूमि

सातारा जिले के उरमोडी परियोजना में बाधित वेणेखोल गांव के पुनर्वास के लिए जल्द से जल्द भूमि उपलब्ध कराने का निर्देश मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने सोमवार को आयोजित 111 वें लोकशाही दिन में दिया। सीएम फडणवीस ने आवेदकों की बातों को सुना और  उस पर कार्यवाही करते हुए संबंधितों को निर्देश दिया। 

लोकशाही दिन में पिछले चार लंबित मामले और नए 20 मामलों पर सुनवाई हुई। विविध विभागीय स्तर के मामलों का वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिए  मुख्यमंत्री ने जायजा लिया और कार्यवाही के लिए संबंधितों को निर्देश दिया। मंत्रालय लोकशाही दिन में नवंबर अंतिम तक 1505 आवेदन प्राप्त हुए थे। इसमें से 1501 आवेदन की शिकायतों का निपटारा किया गया। शेष चार लंबित मामलों पर भी इस दौरान कार्यवाही की गई। सातारा जिले के उरमोडी परियोजना में वेणेखोल गांव बाधित हुआ था। पिछले कई वर्षो से  परियोजना प्रभावितों को जमीन के अभाव में पुनर्वास की शिकायत इस दौरान की गई थी। इस विषय पर मुख्यमंत्री फडणवीस ने वेणेखोल गांव के परियोजना प्रभावितों को पुनर्वास के लिए तत्काल भूमि अधिग्रहण कर परियोजना बाधितों का पुनर्वास करने के निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री  फडणवीस ने बोरीवली के समीप आदिवासी बस्ती में  तत्काल बिजली कनेक्शन देने के निर्देश ऊर्जा विभाग को दिए। इस निर्णय पर उपस्थित आवेदकों के प्रतिनिधि ने समाधान व्यक्त करते हुए मुख्यमंत्री के प्रति आभार माना। इसके अलावा मुंब्रा स्थित कविता नागप्पा बागडे इस दिव्यांग महिला का स्टॉल रास्ते के चौड़ाईकरण में तोड़ दिया गया था। मुख्यमंत्री फडणवीस ने इस शिकायत पर दिव्यांग महिला को तत्काल स्टॉल देने का निर्देश महानगरपालिका को दिया है। इस दौरान मुख्यमंत्री ने सभी मामलों पर तत्काल कार्यवाही करने की सूचना भी संबंधितों को दी है। इस दौरान सामान्य प्रशासन विभाग के अपर मुख्य सचिव बिपिन मलिक, मदद एवं पुनर्वास विभाग की अपर मुख्य सचिव मेधा गाडगील, राजस्व विभाग के अपर मुख्य सचिव मनुकुमार श्रीवास्तव समेत विविध विभाग के अधिकारी उपस्थित थे।

Download PDF

Related Post