शहीद जवानों की पत्नियों का एसटी बसों में नहीं लगेगा किराया

Download PDF
मुंबई- राज्य परिवहन की बसों में अब शहीद सैनिकों की पत्नियों का किराया नहीं लगेगा। शिवसेना प्रमुख बालासाहेब ठाकरे शहीद सम्मान योजना के तहत भारतीय सेना, सुरक्षा दलों के शहीद जवानों की पत्नियां आजीवन एसटी की सभी प्रकार की बसों में निशुल्क यात्रा कर सकेंगी।
जिले के पालकमंत्रियों के हाथ शहीद जवानों की वीर पत्नियों को सहुलियत कार्ड दिया जाएगा। वीर पत्नियों को दिए जानेवाले कार्ड के एक ओर शहीद जवान का फोटो, नाम, वहदा, पता का उल्लेख होगा। दूसरी तरफ शहीद जवानों की पत्नी का फोटो, नाम, पता, कार्ड क्रमांक और बल्ड ग्रुप का अंकित होगा।
ठाकरे शहीद सम्मान योजना का शुभारंभ महाराष्ट्र दिवस यानी एक मई को प्रदेश के सभी जिलों में ध्वजारोहण के बाद किया जाएगा। जिले के पालकमंत्रियों के हाथ शहीद जवानों की वीर पत्नियों को सहुलियत कार्ड दिया जाएगा। वीर पत्नियों को दिए जानेवाले कार्ड के एक ओर शहीद जवान का फोटो, नाम, वहदा, पता का उल्लेख होगा। दूसरी तरफ शहीद जवानों की पत्नी का फोटो, नाम, पता, कार्ड क्रमांक और बल्ड ग्रुप का अंकित होगा। प्रदेश की 517 शहीद जवानों की पत्नियों को यह सहुलियत दी जाएगी। कार्यक्रम में शहीद जवानों की पत्नी अपने परिवार के साथ शामिल हो सकें, इसलिए एसटी की ओर से खास व्यवस्था की गई है।
एसटी की ओर से मिली जानकारी के अनुसार कुछ वीर जवानों के पत्नियों ने आर्थिक स्थिती ठीक होने का हवाला देते हुए सुविधा लेने इनकार किया है। बावजूद इसके परिवहन मंत्री दिवाकर रावते की ओर से ज्यादा से ज्यादा शहीदों की पत्नियों को इस सुविधा का लाभ पहुंचाने की कोशिश की जा रही है। जानकारी यह भी मिल रही है कि भविष्य में भी इस योजना का लाभ शहीदों की पत्नियों को दिया जाएगा। साथ ही शहीदों के आश्रितों को शिक्षा की पात्रता के अनुसार एसटी में नौकरी दिए जाने का विचार है।
Download PDF

Related Post