मटका माफिया के बुरे दिन #11: ‘मेन रतन बाजार’ बन गया ‘मेन बाजार’ मटका, मुंबई से गया अहमदाबाद

Download PDF
  • मटका माफिया पप्पू सावला ने कोल्हापुर पुलिस को दिखाया अंगूठा
  • मेन बाजार मटका खुलने लगा 29 जुलाई 2019 से
  • मेन बाजार की कमान फिर घनश्याम पटेल के हाथ में
  • पप्पू सावला और हीरजी सावला हैं अभी भी फरार

विवेक अग्रवाल

मुंबई, 30 जुलाई 2019

मेन बाजार मटका संचालक पप्पू सावला ने नया खेल कर दिया है। उसने गुजरात के मशहूर क्रिकेट सट्टा और मटका कारोबारी के हाथों में एक बार फिर से मेन बाजार मटके की कमान सौंप दी है। पुलिस के जबरदस्त दबाव के चलते मेनबाजार मटका मुंबई से एक बार फिर गुजरात के मुख्य शहर अहमदाबाद जा पहुंचा है। पुलिस को धोखा देने के लिए इसका नाम भी ‘मेन बाजार’ से बदल कर “मेन रतन बाजार” कर दिया है।

पिछले कई महीनों से कोल्हापुर पुलिस के दबाव और दनादन गिरफ्तारियां के कारण मोका के तहत मेन बाजार मटका बंद पड़ा था। मेनबाजार मटका के मुख्य संचालक प्रकाश सावला उर्फ पप्पू सावला अपने पिता हीरजी सावला के साथ अभी भी फरार चल रहा है। उसका भाई जयेश और बेटा विरल पुलिस की गिरफ्त में आ चुके हैं।

गुजरात चला मेन बाजार

पता चला है कि कभी मेन बाजार मटका ऑपरेट कर रहे घनश्याम पटेल को ही रॉयल्टी पर मटका चलाने के लिए देना तय हो चुका है।

सूत्रों के मुताबिक 25 जुलाई 2019 को पप्पू सावला और घनश्याम के बीच इस सिलसिले में बातचीत हो गई है।

फाईनल नंबर 6

29 जुलाई 2019 से ही मेन बाजार मटका के आंकड़े फिर खुलने लगे।

सूत्रों का कहना है कि यह तय हुआ है कि मेन बाजार मटका अपने पुराने समय रात 9:40 पर ओपन और रात 12:10 पर क्लोज खुलेगा।

पहले दिन बाजार का फाइनल नंबर 6 था।

मेन रतन बाजार में 29 जुलाई 2019 को ओपन के आंकड़े 130 पर 4 और क्लोज का 378 पर 8 था।

इंटरनेट से गायब मेन रतन बाजार

सट्टा वेबसाईटों और एप्स पर अभी तक मेन रतन बाजार की लिस्टिंग नहीं हुई है। 29 जुलाई को पूरे दिन सटोरिए और पंटर वेबसाईटों और एप्स पर मेन बाजार को खोजते रहे लेकिन वह गायब ही रहा।

कहा जा रहा है कि कोल्हापुर पुलिस अधिकारियों ने जिस तरह एक वेबसाईट के मालिक को धमकाया था, उसके बाद डर के मारे कोई भी वेबसाईट और एप्स वाले मेन रतन बाजार को दिखाने के लिए तैयार नहीं हैं।

कौन है घनश्याम पटेल

घनश्याम पटेल के पास मेनबाजार मटके का कामकाज फिर एक बार जा पहुंचा है। उसके गुजरात में मटके के कई अड्डे चलते हैं। पता चला है कि वह अहमदाबाद से क्रिकेट सट्टे की बुक भी चलाता है।

कहा जाता है कि राष्ट्रीय राजनीति में ऊंचे पदों पर बैठे कुछ नेताओं और मंत्रियों से घनश्याम के घनिष्ठ संबंध हैं। इसी का फायदा उठाने के लिए मटका मेन बाजार मटका घनश्याम को देने की योजना पप्पू सावला ने बनाई है।

बता दें कि गुजरात की राजनीति में गहरा दखल रखने वाले घनश्याम ने नोटबंदी के वक्त तक मटका चलाया था। नोटबंदी के कारण नकदी संकट से सिर्फ देश के लोग ही नहीं जूझ रहे थे बल्कि कुछ समय तक सट्टे-मटके वालों को भी खासी परेशानियों का सामना करना पड़ा था। मेन बाजार मटका भी इसी कारण उस दौर में लगभग ढाई महीने तक बंद रहा था।

इस दौरान लगातार हो रहे घाटे से परेशान पप्पू सावला ने मटके मेन बाजार की कमान फिर कब्जे में कर ली थी। इसी समय उसके भागीदार और करीबी दोस्त पंकज गांगर ने मेन बाजार मटका चलाने के लिए रॉयल्टी पर मांगा था, जिसे पप्पू सावला ने खारिज कर दिया था।

इसके बाद मेन बाजार मटका जहां-जहां चलता रहा, वहां-वहां पुलिस छापेमारी होती रही।

सूत्रों के मुताबिक कि घनश्याम ने जब तक अहमदाबाद में मेन बाजार मटका चलाया, तब तक कभी पुलिस वालों ने उसकी तरफ रुख भी नहीं किया।

कब हुई बातचीत?

सूत्रों के मुताबिक नए ऑपरेटर द्वारा मेन बाजार मटका चलाने के लिए कम से कम एक सप्ताह आंकड़े खोलने में लग जाते हैं।

बताया जा रहा है कि पिछले दो-तीन महीनों में मेन बाजार मटके का नेटवर्क तहस-नहस हो चुका है। यह नेटवर्क घनश्याम को फिर खड़ा करना पड़ेगा। मटका खेलने वालों के लिए और बुकियों के लिए नए नंबर जारी करने होंगे।

इस हिसाब से देखा जाए तो पप्पू और घनश्याम काफी पहले मामला तय चुके होंगे। इसकी जानकारी अब छन कर सामने आ रही है।

कितनी होगी रॉयल्टी

मटका बाजार के जानकार सूत्रों का कहना है कि मेन बाजार मटका रॉयल्टी पर जाता है तो महीने की तकरीबन पांच से 10 करोड़ रुपए की रॉयल्टी पप्पू सावला को हासिल होगी।

यह जानकारी नहीं मिली है कि रॉयल्टी की रकम से ही गवली गिरोह को चुकाई जाने वाली संरक्षण राशि के अलावा जितने लोगों को हफ्ते की रकम जाती है, वह भी पप्पू सावला चुकाएगा या घनश्याम।

गवली गिरोह का हफ्ता

मटका बाजार सूत्रों के मुताबिक गवली गिरोह को मेन बाजार मटका से हर महीने 2500000 रुपए संरक्षण राशि के तौर पर चुकाए जाते हैं

कल्याण नाईट भी जोर-शोर से जारी

यह जानकारी भी बाजार से छन कर आ रही है कि कल्याण नाइट बाजार मटका भी पिछले कुछ समय से चालू है।

खबर यह भी आ रही थी कि जया भगत कल्याण नाइट बाजार चला रही है लेकिन पता चला है कि कोई और ऑपरेटर यह मटका चला रहा है।

Hashtags

#Matka #Main_Bazar #Pappu_Savla #Viral_Savla #Satta #Batting #Mumbai #Police #Kolhapur #Gujrat #Vivek_Agrawal #Crime #Mafia #Arun_Gawli #Hirji_Savla #MCOCA #Kalyan_Bazar #Worli_Bazar #Jaya_Bhagat #Salim_Mulla #Shama_Mulla #Attack #मटका #मेन_बाजार #पप्पू_सावला #विरल_सावला #सट्टा #जुआ #मुंबई #पुलिस #कोल्हापुर #गुजरात #विवेक_अग्रवाल #अपराध #माफिया #अरुण_गवली #हीरजी_सावला #मोका #कल्याण_बाजार #वरली_बाजार #जया_भगत #सलीम_मुल्ला #शमा_मुल्ला #हमला #Ghanshyam_Patel #Ahamedbad #धनश्याम_पटेल #अहमदाबाद

Download PDF

Related Post