मटका माफिया के बुरे दिन #07: पर्ची वाले से बुकी बना सलीम मुल्ला

Download PDF
  • पुलिस से पंगा बना जान की सांसत
  • सलीम मुल्ला को पुलिस ने पहुंचाया हवालात में
  • कभी मटके की पर्चियां काटता था सलीम
  • मेनबाजार का बड़ा बुकी बना सलीम

विवेक अग्रवाल

मुंबई, 24 जुलाई 2019

कोल्हापुर की एक दुकान में मटके की पर्चियां काटने वाले रफीक मुल्ला के पास काली कमाई से इतनी ताकत पैदा हो गई कि पुलिस को भी अपने सामने बौना समझने लगा। वह बुकि सम्राट के जरिए मेन बाजार मटके के गिरोह सरगना पप्पू सावला तक जा पहुंचा। अब धन के नशे में चूर और सत्ता के खिलाड़ियों की ताकत से मगरूर सलीम मुल्ला मोका कानून के तहत गिरफ्तार होकर जेल की सलाखों के पीछे एड़ियां रगड़ रहा है।

सम्राट का खास सलीम मुल्ला

मटका बुकी सलीम मुल्ला को मटका किंग सम्राट का खास आदमी बताया जाता है। सम्राट के लिए कटिंग करने वाले सलीम ने पूरे जिले में एजंटों का जाल बिछा रखा है। उसके पास हर दिन करोड़ों रुपए जमा होते हैं।

सूत्रों के मुताबिक कोल्हापुर जिले के 32 थाना क्षेत्रों के हर इलाके में लगभग एक दर्जन एजंट के हिसाब से लगभग 384 का आंकड़ा जा पहुंचता है।

सम्राट की सेना

पुलिस सूत्रों के मुताबिक सलीम मुल्ला, विजय लहू पाटिल, संजय रामचंद्र देसाई, बशीर अब्बास पाटेकर, संजय विलास मेढ़े, राहुल जोतीराम पाटिल, अनंत कुमार जयपाल चौगुले, दत्ता नरसू कोली, बालू बाबू कोरवी, यशवंत ऊर्फ नाना सुर्वे, अशोक बलवंत चौगुले, भास्कर शिवाजी भांदिगरे, चॉँद बालासाहेब सर्जेखान, मधुकर केशव जमादार, शरद कोराणे, अभिजित यादव, सचिन जनार्दन मोले के नाम बतौर एजंट आते हैं।

पुलिस अधिकारियों के मुताबिक इन सबके ऊपर सम्राट नामक बुकी है। वह हर रात मोपेड पर बुकियों और एजंटों के पास जाकर रकम जमा करता है।

सलीम पर आरोप

पुलिस के मुताबिक सलीम के खिलाफ मटका और अवैध साहूकारी के राजारामपुरी थाने में दर्ज भर से अधिक मामले दर्ज हैं।

पुलिस अधिकारियों का दावा है कि राजारामपुरी इलाके में ही उसका अवैध सोशल क्लब भी है, जहां जुआ खेला जाता है।

कुछ भ्रष्ट पुलिस वालों की मिलीभगत से रफीक मुल्ला और उसके साथी काफी समय से इलाके में सट्टा-मटका चला रहे हैं, इसकी जानकारी वक्त-वक्त पर अखबारों में छपती रही है। इसके बावजूद पुलिस कार्रवाई नहीं होती थी।

मदमस्त मुल्ला

पुलिस ने दावा किया कि कुछ महीनों पहले ही जेल से छूटे सलीम ने मटका कारोबार शुरू किया था। वह कुछ भ्रष्ट पुलिस वालों से अच्छे संबंध बना चुका था। इसी के चलते उसकी आपराधिक हरकतें बढ़ती जा रही थीं।

कोल्हापुर में पुलिस पर हमला करने और हथियार छीन कर भागने की घटना पहली बार हुई। इससे न केवल जनता बल्कि अधिकारी भी सकपका गए। जब एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी पर हमला हुआ तो जाकर कहीं इसकी गंभीरता समझ आई, जिसके बाद जोरदार कार्रवाई शुरू हुई।

ओसवाल भी मुल्ला की राह पर

पश्चिम महाराष्ट्र में मटका-सट्टा केंद्र के रूप में कोल्हापुर की पहचान बनी रही है। इस इलाके में गरीबों के बीच मटका बहुत लोकप्रिय जुआ बना रहा है। सलीम मुल्ला द्वारा कोल्हापुर पुलिस पर हमला करने के बाद पुलिस अधिकारियों ने चारों तरफ दबाव बनाना शुरु किया।

मई 2019 के पहले सप्ताह में पश्चिम महाराष्ट्र में मटका माफिया राकेश मदनलाल ओसवाल (मथुरानगर, सांगली नाका, इचलकरंजी निवासी), विजय लहू पाटिल (देवकर पाणंद, कोल्हापुर निवासी), सम्राट सुभाष कोराणे (शिवाजी पेठ निवासी) के खिलाफ पुलिस कारवाई हुई। इसके कारण कोल्हापुर, सांगली, सतारा, सोलापूर, पुणे ग्रामीण, बेलगांव जिलों में हर दिन लगभग 25 करोड़ रुपए के मटका कारोबार का खात्मा हुआ।

ओसवाल गिरोह पर गाज

इन इलाकों में राकेश ओसवाल का मटका गिरोह सक्रिय है। लगभग 1,000 एजंटों का नेटवर्क पसरा हुआ है। पहले विजय पाटिल और सम्राट कोराणे के खिलाफ पुलिस ने कारवाई की थी लेकिन वह जल्द ही थम गई।

कहते हैं कि राकेश ओसवाल दिखने में बड़ा कारोबारी किस्म का है। वह मुंबई के मटका माफिया से सीधे संबंध रखता है। वह मेन बाजार मटका के संचालक पप्पू सावला उर्फ प्रकाश सावला से भी सीधे संपर्क में रहा है। वह अकेला हर दिन लगभग 10 करोड़ रुपए का मटका जुआ कारोबार करता रहा है।

मोबाईल में मटका

इलाके की पान दुकानों समेत हर गली-चौराहे पर राकेश अग्रवाल का मटका कारोबार चलता है। गुलाबी, पीली, सफेद, नीली पर्चियां अब कहीं दिखती नहीं हैं। मोबाईल एप्स, एसएमएस और व्हॉट्सएप के जरिए मटका चल रहा है। इस मामले में जूना राजवाड़ा थाने ने मटका संचालक विजय पाटिल पर कारवाई की थी।

जारी: मेन बाजार मटका पर शनि का साया

Hashtags

#Matka #Main_Bazar #Pappu_Savla #Viral_Savla #Satta #Batting #Mumbai #Police #Kolhapur #Gujrat #Vivek_Agrawal #Crime #Mafia #Arun_Gwali #Hirji_Savla #MCOCA #Kalyan_Bazar #Worli_Bazar #Jaya_Bhagat #Salim_Mulla #Shama_Mulla #Attack #मटका #मेन_बाजार #पप्पू_सावला #विरल_सावला #सट्टा #जुआ #मुंबई #पुलिस #कोल्हापुर #गुजरात #विवेक_अग्रवाल #अपराध #माफिया #अरुण_गवली #हीरजी_सावला #मोका #कल्याण_बाजार #वरली_बाजार #जया_भगत #सलीम_मुल्ला #शमा_मुल्ला #हमला

Download PDF

Related Post