विधायक के गुर्गे चुरा ले गए थे घोटाले की फाइल !

Download PDF
अण्णाभाऊ साठे महामंडल के महाप्रबंधक निलंबित
मुंबई- लोकशाहीर अण्णाभाऊ साठे महामंडल में हुए 385 हजार करोड़ के घोटाले से जुड़ी फाइल चोरी होने के मामले में महामंडल के महाप्रबंधक नागेश दत्तात्रेय जुंबाड़े को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है। यह घोषणा शुक्रवार को सामाजिक न्याय राज्यमंत्री दिलीप कांबले ने घटनास्थल का दौरा करने के बाद की। घोटाले के आरोप में एनसीपी के पूर्व विधायक रमेश कदम जेल में बंद हैं।
कार्यालय का ताला तोड़ते हुए एक वीडियो वायरल हुआ। बताया जाता है कि ताला तोड़ते समय रमेश कदम के भाई भी मौजूद थे। कदम समर्थकों ने कार्यालय में घुसकर घोटाले से संबंधित फाइल चुराई और फरार हो गए। वीडियो फुटेज के आधार पर आरोपियों को पुलिस ने पकड़ लिया है।
बताया जाता है कि एनसीपी के पूर्व विधायक रमेश कदम के समर्थक महामंडल के कार्यालय में लगी सील और ताला तोड़कर फ़ाइल जबरन उठा ले गए थे। इससे शासन-प्रशासन में हलचल मच गई थी। इस मामले में राज्यमंत्री कांबले ने जुंबाड़े को तत्काल प्रभाव से निलंबित किए जाने की घोषणा की है। राज्यमंत्री कांबले ने मामले की जानकारी मिलते ही घटनास्थल पर जाकर मौका मुआवना किया। सुरक्षा के पर्याप्त प्रबंध न होने के कारण महामंडल के महाप्रबंधक जुंबाड़े को निलंबित कर दिया गया है। कार्यालय का ताला तोड़ते हुए एक वीडियो वायरल हुआ। बताया जाता है कि ताला तोड़ते समय रमेश कदम के भाई भी मौजूद थे। कदम समर्थकों ने कार्यालय में घुसकर घोटाले से संबंधित फाइल चुराई और फरार हो गए। वीडियो फुटेज के आधार पर आरोपियों को पुलिस ने पकड़ लिया है। राज्यमंत्री कांबले ने बताया कि फाइल चोरी करने वालों को गिरफ्तार किया गया है। इस मामले में महत्वपूर्ण फ़ाइल को बरामद कर लिया गया है। सरकार ने उन फ़ाइल को कब्जे में ले लिया है।
राज्यमंत्री कांबले के मुताबिक फाइल यदि गायब हो भी जाती है तो मुकदमे पर कोई फर्क नहीं पड़ेगा। क्योंकि सीआईडी ने रमेश कदम पर कार्रवाई करते समय महत्वपूर्ण दस्तावेजों को अपने में कब्जे में ले रखा है। सामाजिक न्याय विभाग की मालकीयत की दहिसर के हनुमान टेकडी में कल्याणी केंद्र की 4 मंजिला इमारत है। इस इमारत में अण्णाभाऊ साठे विकास महामंडल में हुए 385 करोड़ रुपए के घोटाले से संबंधित दस्तावेज रखे गए हैं। उसमें कुछ फाइल चुराकर लोग फरार हो गए थे। इस संबंध में दहिसर पुलिस ने मामला दर्ज किया है। रमेश कदम घोटाले के आरोप में आर्थर रोड जेल में बंद हैं। जब घोटाला हुआ तब रमेश कदम अण्णाभाऊ साठे महामंडल के अध्यक्ष थे। उन पर करीबियों को फायदा पहुंचाने और नौकर भर्ती में अनियमितता बरते जाने का आरोप लगा है। मामला सामने आने के बाद रमेश कदम को एनसीपी ने पार्टी से निलंबित कर दिया था।
Download PDF

Related Post