हथियारों का कुटीर उद्योग 3 – आदिवासी करते हैं हथियारों की तस्करी

Download PDF

सिकलीगरों के लिए हथियारों की तस्करी कर रहे हैं स्थानीय आदिवासी।

गरीबी और भूख के मारे ये आदिवासी सिकलीकगरों के सबसे करीबी और प्राकृतिक सहयोगी बन कर उभरे हैं।

कई बार ये गिरफ्तार हुए हैं, न केवल मध्यप्रदेश में बल्कि पड़ोसी राज्यों महाराष्ट्र, राजस्थान से लेकर असम और केरल तक जैसे सुदूर राज्यों में भी।

आखिर क्या कारण हैं कि ये आदिवासी अपराध की इस धारा की ओर प्रवृत्त हुए।

देश के ख्यातनाम खोजी पत्रकार विवेक अग्रवाल ने इस इलाके के अंदर तक जाकर पूरी पड़ताल की।

यह बेहद खास और एक्सक्लूसिव रपट –

Download PDF

Related Post