मध्य प्रदेश स्कूली पाठ्यक्रम में होंगे ‘आपातकाल’ और जयप्रकाश नारायण!

Download PDF

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने किया लोकतंत्र सेनानियों का सम्मान

भोपाल, मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि स्कूली पाठयक्रम में आपातकाल के सबक और स्वर्गीय जयप्रकाश नारायण के लोकतांत्रिक समर्पण के संबंध में पाठ शामिल किये जायेंगे। उन्हेंने कहा कि लोकतंत्र सेनानियों के जीवनसाथी को भी चिकित्सा सुविधा मुहैया कराने की व्यवस्था की जायेगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान आज यहाँ मुख्यमंत्री निवास पर लोकतंत्र सेनानियों के सम्मान समारोह को संबोधित कर रहे थे। श्री चौहान ने समारोह में लोकतंत्र सेनानियों का सम्मान किया और उन्हें ताम्रपत्र भेंट किये।

मुख्यमंत्री ने कहा कि लोकतंत्र सेनानियों ने आपातकाल में जो यातना झेली, उसका अहसास आज की पीढ़ी नहीं कर सकती। मध्यप्रदेश से शुरू हुई लोकतंत्र सेनानियों के सम्मान की परम्परा सराहनीय है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि लोकतंत्र सेनानियों ने लोकतंत्र की महान सेवा की है। लोकतंत्र को मजबूत बनाने के लिये आने वाली पीढ़ी को इनके समर्पण कार्य सदैव प्रेरणा देते रहेंगे। उन्होंने कहा कि ये ताम्रपत्र लोकतंत्र को बचाने के लिये की गई तपस्या का सम्मान है। मुख्यमंत्री ने कहा कि लोकतंत्र सेनानियों ने आपातकाल में जो यातना झेली, उसका अहसास आज की पीढ़ी नहीं कर सकती। मध्यप्रदेश से शुरू हुई लोकतंत्र सेनानियों के सम्मान की परम्परा सराहनीय है।

लोकतंत्र सेनानी संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं सांसद श्री कैलाश सोनी ने समारोह में अतिथियों का स्वागत किया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने इस अवसर पर संघ की स्मारिका का विमोचन किया। राज्य पर्यटन विकास निगम के अध्यक्ष श्री तपन भौमिक ने कार्यक्रम का संचालन किया। लोकतंत्र सेनानी संघ के महामंत्री श्री सुरेन्द्र द्विवेदी ने आभार प्रदर्शित किया।

समारोह में पूर्व मुख्यमंत्री श्री बाबूलाल गौर, पूर्व केन्द्रीय मंत्री श्री विक्रम वर्मा, श्री कैलाश सारंग सहित बड़ी संख्या में लोकतंत्र सेनानी और उनके परिजन उपस्थित थे।

Download PDF

Related Post