पडसलगीकर डीजी, जायसवाल नए सीपी… 

Download PDF
मुंबई-, मुंबई पुलिस कमिश्नर पद पर कौन आसीन होगा , इस सवाल का जवाब मिल गया है. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक 1985 बैच के आईपीएस अधिकारी  सुबोध कुमार जायसवाल मुंबई के नए पुलिस कमिश्नर होंगे. वर्तमान में जायसवाल केंद्र सरकार के अधीन  रॉ आफिसर के रूप में काम रहे हैं. जायसवाल के अलावा इस पद के लिए राज्य गुप्तचर विभाग के  प्रमुख संजय बर्वे भी दौड़ में थे, लेकिन आख़िरकार  जायसवाल ने बाजी मार ली .  पुलिस महानिदेशक  सतीश माथुर के 30 जून को रिटायर होने के बाद  पुलिस महकमे में बड़े फेरबदल की योजना है. मुंबई पुलिस कमिश्नर का पद संभालने वाले  दत्ता पडसलगीकर को माथुर की जगह राज्य का  नया पुलिस महानिदेशक बनाया गया है .
ठाणे पुलिस आयुक्त परमवीर सिंह ( 1985 बैच के आईपीएस ) व  पुणे पुलिस आयुक्त रश्मि शुक्ला ( 1988 बैच के आईपीएस ) भी इस दौड़ में शामिल थीं. जायसवाल को  मुंबई के अलावा राज्य के कई भागों में काम करने का अनुभव है . 55  वर्षीय जायसवाल 5 साल बाद रिटायर होंगे.
मुंबई पुलिस कमिश्नर पद की दौड़ में जायसवाल के अलावा कई आईपीएस अधिकारी शामिल थे. जायसवाल का कड़ा मुकाबला राज्य गुप्तचर विभाग के  प्रमुख संजय बर्वे से था . इसके अलावा ठाणे पुलिस आयुक्त परमवीर सिंह ( 1985 बैच के आईपीएस ) व  पुणे पुलिस आयुक्त रश्मि शुक्ला ( 1988 बैच के आईपीएस ) भी इस दौड़ में शामिल थीं. जायसवाल को  मुंबई के अलावा राज्य के कई भागों में काम करने का अनुभव है . 55  वर्षीय जायसवाल 5 साल बाद रिटायर होंगे.
जायसवाल का मुंबई पुलिस कमिश्नर पद का कार्यकाल छोटा हो सकता है. पुलिस महानिदेशक पद से पडसलगीकर 31 अगस्त को रिटायर हो जाएंगे . इसके बाद जायसवाल  का इस पद पर प्रमोशन किया जा सकता है . हालांकि  सुप्रीम कोर्ट के फैसले की वजह से पडसलगीकर को डीजी पद के लिए दो साल तक नियमित बहाल किया जा सकता है . यदि ऐसा होता है तो जायसवाल दो साल के लिए मुंबई पुलिस कमिश्नर पद पर बने रहेंगे. 1985 बैच के आईपीएस अधिकारी, वर्तमान में रॉ में सीनियर ऑफिसर 2006 के मुंबई बम ब्लास्ट जांच टीम में शामिल ,स्टाम्प पेपर घोटाले की जांच में अहम भूमिका,नक्सल प्रभावित इलाकों में काम करने का अनुभव, मुंबई में अतिरिक्त पुलिस आयुक्त के रूप में काम करने का अनुभव है।
Download PDF

Related Post