राजनीति का जवाब मिलेगा राजनीति से – सीएम फडणवीस 

Download PDF
मुंबई। मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने विपक्ष पर पलटवार करते हुए कहा है कि हमारी सरकार मराठा समुदाय को आरक्षण देने के लिए वचनबद्ध हैं। इसी शीत सत्र में एक्शन टेकन रिपोर्ट (एटीआर) और विधेयक लाया जाएगा। मुख्यमंत्री ने फिर दोहराया है कि मराठा और धनगर समाज के आरक्षण के लिए मौजूदा 52 फीसदी आरक्षण से किसी तरह की छेड़छाड़ नहीं की जाएगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि विपक्ष इस मामले में सियासत खेल रहा है, अब राजनीति का जवाब हम राजनीति से ही देंगे। 

 मराठा आरक्षण पर सरकार कटिबद्ध, इसी सत्र में पेश होगा विधेयक

विपक्ष ने मंगलवार को भी मराठा और धनगर आरक्षण से जुड़ी रिपोर्ट सदन में पेश करने की मांग को लेकर दोनों सदनों में हंगामा किया। विपक्ष के हंगामे के बीच मुख्यमंत्री फडणवीस ने  कहा कि विपक्ष के मन में खोट है। वे समाज में नफरत फैलाना चाहते हैं और जातियों को आपस में लड़ाना चाहते हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार कानून के मुताबिक कार्यवाही कर रही है। इससे पहले पिछड़ा वर्ग आयोग की 51 रिपोर्ट आ चुकी हैं लेकिन उनमें से एक भी सदन में पेश नहीं हुई है। फिर इस बार विपक्ष ऐसी मांग क्यों कर रहा है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में फिलहाल 50 नहीं बल्कि 52 फीसदी आरक्षण है। लेकिन मराठा और धनगर समाज को इसके अतिरिक्त आरक्षण दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि धनगर आरक्षण से जुड़ी टाटा इंस्टिट्यूट ऑफ सोशल साइंसेस की रिपोर्ट का अध्ययन किया जा रहा है। इस पर भी सरकार सही समय पर एटीआर और विधेयक लाएगी। 
 
मुख्यमंत्री ने आरोप लगाया कि विपक्ष मुसलमानों का इस्तेमाल वोट बैंक की तरह कर रहा है। उन्होंने कहा कि मुस्लिम समाज की पिछड़ी जातियों को ओबीसी के तहत पिछली युति सरकार के कार्यकाल में दिया गया था। 5 फीसदी आरक्षण के मुद्दे पर मुख्यमंत्री ने कहा कि अदालत ने शिक्षा में आरक्षण रद्द नहीं किया लेकिन मामले पर अभी फैसला नहीं आया है। उन्होंने कहा कि उच्च शिक्षा के लिए हमने मुसलमानों को स्कॉलरशिप दी। हम मुस्लिम समाज के साथ खड़े हैं। मुख्यमंत्री ने सवाल किया कि अगर विपक्ष मुसलमानों का हितैशी है तो उसने रंगनाथन, सच्चर कमेटी और महमूद रहमान कमेटी की रिपोर्ट क्यों लागू नहीं की। 
Download PDF

Related Post