बढ़ेगी विदेशी छात्रवृत्ति के लिए आय सीमा 

Download PDF
मुंबई। महाराष्ट्र सरकार ने सामान्य वर्ग के विद्यार्थियों को विदेश में उच्च शिक्षा लेने के लिए दी जानेवाली छात्रवृत्ति के लिए सालाना आय मर्यादा बढ़ाने का फैसला किया है। साथ ही पिछड़े वर्ग के विद्यार्थियों के लिए भी विदेशी पढ़ाई के लिए दी जानेवाली छात्रवृत्ति के लिए आय सीमा बढ़ाने के संबंध में राज्य सरकार सकारात्मक है। जल्द ही इस पर निर्णय लिया जाएगा। यह जानकारी सामाजिक न्याय राज्यमंत्री दिलीप कांबले ने गुरुवार को विधान परिषद में दी। 
 
कांबले ने कहा कि खुला प्रवर्ग के छात्रों को विदेशों में उच्च शिक्षा के लिए छात्रवृत्ति देने संबंधी निर्णय लिया गया है। इसके लिए विद्यार्थी की पारिवारिक वार्षिक आय सीमा 20 लाख रुपए निर्धारित की गई है। कांबले ने कहा कि हर वर्ग के लिए संबधित विभागों की ओर से विदेश छात्रवृत्ति की योजना चलाई जाती है। अनुसूचित जाति एवं जनजाति के छात्रों के लिए वार्षिक आय सीमा 6 लाख और विमुक्त जाति, बंजारा, अन्य पिछड़ा वर्ग, विशेष पिछड़ा वर्ग के विद्यार्थियों के लिए 8 लाख रुपए आय सीमा है। फिर भी उक्त विभाग की ओर से योजना के नियम, शर्त, विद्यार्थी चयन संख्या और योजना की नियमावली तैयार की गई है। इस संबंध में भाजपा के विजय ऊर्फ भाई गिरकर व अन्य सदस्यों ने सवाल पूछा था। 
Download PDF

Related Post