साम-दाम-दंड-भेद का अर्थ समझाएं मुख्यमंत्री- उद्धव ठाकरे

Download PDF

मुंबई- मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की ऑ़डियो क्लीप का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। मुख्यमंत्री का दावा है शिवसेना पक्षप्रमुख उद्धव ठाकरे की ओर से ऑडियो क्लीप को कांट-छांटकर सार्वजनिक किया गया है। इसके जवाब में उद्धव ने कहा है साम-दाम-दंड-भेद का अर्थ क्या होता है। यह मुख्यमंत्री हमें समझाएं। हम उनसे मराठी सीखने के लिए तैयार हैं।

हमें सबसे महत्वपूर्ण मामले को जनता के सामने लाना था, जो हमने किया। मुख्यमंत्री का पूरा भाषण हमें सामने लाने की आवश्कता नहीं थी।ऑ़डियो क्लीप में काट-छांट की गई है, तो भाजपा के पास जो कुशल एडिटर हो, उससे जांच करा ली जाए –  उद्धव

रविवार को उद्धव ने नाला सफाई के काम का जायजा लिया। पत्रकारों से बातचीत में उद्धव ने कहा कि भले ही हमने ऑडियो क्लीप को एडिट करके पेश किया है। परंतु मुख्यमंत्री ने स्वीकार किया है कि यह ऑडियो क्लीप उन्हीं की है और आवाज भी उनकी है। हमें सबसे महत्वपूर्ण मामले को जनता के सामने लाना था, जो हमने किया। मुख्यमंत्री का पूरा भाषण हमें सामने लाने की आवश्कता नहीं थी। उद्धव ने कहा कि ऑ़डियो क्लीप में काट-छांट की गई है, तो भाजपा के पास जो कुशल एडिटर हो, उससे जांच करा ली जाए। पालघर में पैसे बांटने का मामला भी शिवसेना ने जनता के सामने लाया है। इसका भी विचार होना चाहिए।

उद्धव ने कहा कि मुख्यमंत्री कूटनीति, साम-दाम-दंड-भेद का अर्थ हमें समझाएं। हम उनसे मराठी सीखने के लिए तैयार हैं। उद्धव ने कहा कि वे इस मसले सिर्फ इतना कहेंगे कि जो बूंद से गई, वो हौद नहीं आती। भाजपा को जो कार्यवाही करनी है करनो दो। हमने भी शिकायत दर्ज कराई है। ऑडियो क्लीप के जांच के बाद दोषी पाए जानेवाले पर कार्रवाई होनी चाहिए।

Download PDF

Related Post