साठ साल की उम्र में ही सेनीयर सिटीज़न का ख़िताब!

Download PDF
मुंबई-  वरिष्ठ नागरिकों  की उम्र सीमा को शीघ्र 65 से घटाकर 60 साल किया जाएगा। यह घोषणा सामाजिक न्याय राज्यमंत्री दिलीप कांबले ने बुधवार को विधान परिषद में की।
शिवसेना की नीलम गोर्हे व अन्य सदस्यों ने ध्यानाकर्षण प्रस्ताव के तहत बुजुर्गो की सुरक्षा का मसला उठाया। गोर्हे ने कहा कि अकेले रहने के कारण कई बुजुर्गों के साथ धोखधड़ी, लूटपाट और हत्या की घटनाएं होती हैं।  सरकार कब वरिष्ठ नागरिकों की उम्र सीमा को 65 से घटा कर 60 करने वाली है। इस दौरान गोर्हे ने सुझाव दिया कि गंभीर बीमारियों से जूझ रहे वरिष्ठ नागरिकों के लिए कोल्हापुर की ‘सावली’ संस्था की पहल एक मॉडल साबित हो सकती है। इस तरह के केंद्र राज्य के हर जिले में शुरू किए जाने चाहिए।
इसके जवाब में कांबले  ने कहा कि अगले दो महीने  में इस बारे में फैसला ले लिया जाएगा। मातोश्री वृद्धाश्रम योजना के तहत जिन संस्थाओं के अनुदान बंद हो गए थे, उन्हें फिर से अनुदान दिया जा रहा है। मनपा क्षेत्र के अधीन जो भूखंड बुजुर्गो के लिए आरक्षित रखे गए हैं, उसे स्थाई रखने के लिए मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के साथ चर्चा की  जाएगी। राज्यमंत्री कांबले ने कहा कि संस्था को निर्देश दिए गए है कि किसी भी शख्स को वरिष्ठ नागरिकों की मदद के लिए भेजने से पहले उसकी पूरी जानकारी हासिल कर ली जाए। यदि निर्देश का पालन नहीं किया गया तो बुजुर्ग को कुछ होने पर संबंधित संस्था को भी सह -आरोपी बनाया जाएगा।
Download PDF

Related Post