उदयनराजे के भाजपाई बनने की अटकलों का बाज़ार गरम

Download PDF

मुंबई- छत्रपति शिवाजी महाराज के वंशज और  सातारा संसदीय क्षेत्र से एनसीपी के सांसद उदयनराजे भोसले ने मंगलवार को मंत्रालय में मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस सहित अन्य मंत्रियों से मुलाकात की। सातारा सीट पर प्रत्याशी को लेकर एनसीपी में चल रही खींचतान के बीच उदयनराजे के मेल-मिलाप से सियासी खेमे में अटकलें लगाई जाने लगीं कि वे भाजपा का दामन थामने की तैयारी में हैं। हालांकि मंत्रियों से मुलाकात के बाद उदयनराजे ने साफ किया कि जनता उनकी पार्टी है, यदि जनता चाहेगी तो वे निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में भी चुनाव लड़ने को तैयार हैं।

जनता मेरी पार्टी, आदेश मिला तो निर्दलीय लड़ूंगा चुनाव  – उदयनराजे भोसले

मंत्रालय में पत्रकारों से बातचीत में उदयनराजे ने एनसीपी छोड़ने के सवाल पर मिली जुली प्रतिक्रिया दी। उन्होंने कहा कि सातारा में बड़े जनाधार वाला नेता दिखा दो, मैं उसका खुद प्रचार करूंगा। उन्होंने कहा कि वे अपने संसदीय क्षेत्र के कामों को लेकर मुख्यमंत्री और अन्य मंत्रियों से मिले थे। मुख्यमंत्री से किसी राजनीतिक मुद्दे पर चर्चा नहीं हुई। उदयनराजे ने कहा कि पुरानी सरकार में भी काम होते थे, अब इस सरकार में भी काम हो रहे हैं। उदयनराजे ने कहा कि अब मेरा समय बीत गया है। कई साल तक विधायक और सांसद रहा। चुनाव लड़ना अब जरूरी नहीं है। अब मुझे भी लगता है कि सामान्य व्यक्ति का जीवन जीऊं। लेकिन जनता का आदेश होगा तो चुनाव लड़ूंगा। यदि एनसीपी कहे सातारा छोड़कर अन्य सीट से चुनाव लड़ेगे। इस सवाल पर उदनराजे ने कहा कि क्या अब चंद्रमा पर जाकर चुनाव लड़ूं। उन्होंने कहा कि जिस तरह से पार्टी प्रमुख शरद पवार का मुख्यमंत्री फडणवीस, शिवसेना पक्षप्रमुख उद्धव ठाकरे से मैत्रीपूर्ण संबंध हैं, वैसे उनके भी सभी दलों के नेताओं से मित्रता है।
मराठा आरक्षण के मुद्दे पर उदयनराजे ने कहा कि वे कभी जाति व्यवस्था के समर्थक नहीं रहे। जाति नहीं बल्कि गुणवत्ता को सम्मान मिलना चाहिए। मैं किसी जाति का विरोधी नहीं हूं। आरक्षण दो या न दो, लेकिन कम अंकवाले को अवसर मिलेगा, तो ज्यादा अंक पानेवाले को तकलीफ तो होगी ही। पहले चार वर्ण थे अब चारसौ जातियां-उपजातियां हो गई हैं। मंत्रालय पहुंचे उदयनराजे ने मुख्यमंत्री फडणवीस, महिला बाल कल्याण मंत्री पंकजा मुंडे, मेडिकल शिक्षा मंत्री गिऱीश महाजन, रसद मंत्री गिरीश बापट और राजस्व मंत्री चंद्रकांत पाटिल सहित अन्य मंत्रियों से मुलाकात की।
Download PDF

Related Post