मंत्रालय के सामने खुदकुशी की कोशिश

Download PDF
मुंबई- बुधवार को  मंत्रालय के सामने एक व्यक्ति ने आत्महत्या करने की कोशिश की। दोपहर करीब एक बजे मंत्रालय के मुख्य प्रवेश द्वार के सामने पहुंचे युवक ने अपने ऊपर मिट्टी का तेल उड़ेल लिया। इस घटना से मंत्रालय का सुरक्षातंत्र सकते में आ गया। वहां सुरक्षा में तैनात पुलिसवालों ने तुरंत उसे हिरासत में ले लिया। वह श्री शिव प्रतिष्ठान हिंदुस्तान के संस्थापक संभाजी भिडे की गिरफ़्तारी की मांग को लेकर मंत्रालय पहुंचा था।
आत्महत्या की कोशिश करनेवाले युवक का नाम गणेश पवार है और वह रिपब्लिकन सेना का कार्यकर्ता है। वह भिडे की गिरफ्तारी में हो रहे विलंब को लेकर नाराज है। भीमा-कोरेगांव हिंसा के लिए भिड़े को जिम्मेदार ठहराते हुए दलित नेता उनकी गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं। मुखमंत्री देवेंद्र फडणवीस भिडे को क्लीन चिट दे चुके हैं। बुधवार को केंद्रीय सामाजिक न्याय राज्यमंत्री रामदास आठवले के नेतृत्व में आरपीआई के कार्यकर्ताओं ने उपनगर के जिलाधिकारी कार्यालय पर मोर्चा निकाला था।
मंत्रालय में आमहत्या की कोशिश करने का यह मामला पहला नहीं है। इससे पहले भी नाराज लोगों आमहत्या की कोशिश कर चुके हैं। पिछले 2 साल में 6 लोगों मंत्रालय  परिसर में आत्महत्या की कोशिश कर चुके हैं। जनवरी में धुलिया के बुजुर्ग किसान धर्मा पाटिल (80) जहर पी लिया था। इलाज के दौरान उनकी मृत्यू हो गई थी। फ़रवरी में हर्षल रावते नामक एक युवक ने मंत्रालय की 5 वीं मंजिल से कूदकर जान दे दी थी। फरवरी महीने में ही अविनाश शेटे नामक 32 वर्षीय युवक ने आत्मदाह की कोशिश की थी। जून 2016 को एक साथ तीन लोगों ने मंत्रालय के सामने ख़ुदकुशी की कोशिश की थी। हालांकि मंत्रालय की पहली मंजिल पर सुरक्षा के लिहाज से नायलान की जाली लगा दी गई है। पुलिस मंत्रालय आने वाले हर व्यक्ति पर पैनी नजर रख रही है।
Download PDF

Related Post