पवार को झटका तारिक अनवर ने छोड़ी एनसीपी

Download PDF

मुंबई- एनसीपी महासचिव और सांसद तारिक अनवर ने पार्टी की सदस्यता सहित लोकसभा की सदस्यता से भी इस्तीफा दे दिया है। वे पूर्व रक्षा मंत्री एवं एनसीपी मुखिया शरद पवार के राफेल डील पर दिए गए हालिया बयान से नाराज हैं। सियासी गलियारों में चर्चा है कि वे कांग्रेस में शामिल हो सकते हैं। 

प्रफुल्ल पटेल बोले अनवर का बर्ताव गैर-जिम्मेदाराना  

इधर पार्टी के वरिष्ठ नेता प्रफुल्ल पटेल ने कहा है अनवर का बर्ताव गैरजिम्मेदाराना है।  पार्टी छोड़ने का निर्णय लेने से पहले उन्हें पवार से फोन पर बातचीत कर लेनी चाहिए थी। उन्हें यैसा नहीं करना चाहिए था। बिना किसी के विचार-विमर्श किए यैसा करना गलत है। बहरहाल किसी के जाने से पार्टी पर कोई असर नहीं पड़ेगा।  प्रफुल्ल पटेल ने कहा है अनवर को मनाने की कोशिश की जाएगी।तारिक अनवर एनसीपी के संस्थापक सदस्य हैं। वे बिहार के कटिहार संसदीय सीट से एनसीपी के सांसद हैं। कुछ दिनों पहले उन्होंने राफेल लड़ाकू विमान डील को लेकर भाजपा सरकार पर तीखे तंज कसे थे। अनवर के मुताबिक फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति ने डील में घोटाला होने की पुष्टि की है। परंतु पवार द्वारा प्रधानमंत्री को क्लीन चिट दिए जाने पर वे सहमत नहीं हैं। वे व्यक्तित तौर पर पवार का सम्मान करते हैं। परंतु उनका बयान दुर्भाग्यपूर्ण है। उनके बयान से मुझे पीड़ा पहुंची है। लिहाजा उन्होंने पार्टी छोड़ने के साथ ही सांसद पद से इस्तीफा देने का निर्णय लिया है। दरअसल बीते दिनों एक मराठी समाचार चैनल को दिए गए साक्षात्कार में पवार ने राफेल डील मामले को लेकर प्रधानमंत्री मोदी का बचाव किया था।  पवार ने कहा था  प्रधानमंत्री मोदी के इरादों पर शक नहीं किया जा सकता। कांग्रेस की मांगों का कोई औचित्य नहीं है। हालांकि, उन्होंने यह भी कहा था कि फाइटर प्लेन की कीमतों का खुलासा करने से सरकार को कोई खतरा नहीं होता। ‘निजी तौर पर मुझे लगता है कि लोगों को पीएम मोदी के इरादों पर कोई संदेह नहीं है।

राफेल डील को लेकर कांग्रेस लगातार मोदी सरकार पर हमले बोल रही है। यैसे में मोदी के बचाव में पवार का आया बयान भाजपा के लिए राहतभरा रहा। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने फौरन ट्वीट कर कहा पूर्व रक्षा मंत्री पवार राष्ट्रहित में सच बोल रहे हैं। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को अपने पुराने सहयोगी रहे पवार से सीख लेनी चाहिए।  हालांकि सियासी हलचल को देखते हुए एनसीपी प्रवक्ता नवाब मलिक ने प्रेसवार्ता आयोजित कर सफाई दी कि पवार के बयान को तोड़ मरोड़कर पेश किया गया है। पवार को लेकर मीडिया में आई खबरें भ्रम फैलानेवाली और गुमराह करनेवाली हैं। पवार ने प्रधानमंत्री मोदी को क्लीन चिट नहीं दी है।
Download PDF

Related Post