उद्धव ने किया आयोध्या कूच का एेलान, 25 नंवबर को जाएंगे अयोध्या 

Download PDF
मुंबई- शिवसेना की दशहरा रैली में पक्ष प्रमुख उद्धव ठाकरे ने 25 नवंबर को अयोध्या दौरे का एेलान किया है। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चुनौती देते हुए कहा है कि यदि राम मंदिर नहीं बना सकते तो उसकी घोषणा कर दो, मंदिर हम बनाएंगे। उन्होंने सवाल उठाया कि आखिर देश-विदेश में घूमनेवाले पीएम मोदी आज तक अयोध्या क्यों नहीं गए। 

राम मंदिर पर सियासत गरमाई, पीएम मोदी और शाह पर साधा निशाना 

उद्धव ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की जमकर आलोचना की। उद्धव ने कहा कि जनता की भावनाओं के साथ मत खेलो नहीं तो भस्म हो जाओगे। राम मंदिर बनाओ नहीं तो माना जाएगा कि यह भी भाजपा का जुमला है। उद्धव ने कहा कि साढ़े चार साल होने को हैं, लेकिन विदेशों में घूमने वाले पीएम मोदी जिस राज्य से चुनाव जीते हैं, उसी यूपी के अय़ोध्या नहीं गए। परंतु मैं पहली बार यूपी के अयोध्या हाथ में भगवा फहराते हुए जाऊंगा। यह दौरा राम मंदिर निर्माण की याद दिलाने के लिए होगाा। उन्होंने सरसंघ चालक मोहन भागवत के बयान का भी समर्थन किया। उन्होंने कहा कि रमजान पर युद्धबंदी की जाती है, लेकिन हिंदुओं के त्यौहारों मेें तरह-तरह की पाबंदियां लादी जाती हैं। हिंदुओं के त्याहारों पर लगाई जानेवाली पांबदियों पर बंदी लगनी चाहिए।
 
 उद्धव ने कहा कि हर साल रावण खड़ा हो जाता है, लेकिन राम मंदिर नहीं खड़ा हो रहा है। उन्होंने जम्मू-कश्मीर में धारा-370 हटाने के मामले को लेकर भी मोदी सरकार पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि वादा करनेवाली सरकार धारा-370 हटाने का प्रस्ताव संसद में पेश करे। उन्होंने पेट्रोल-डीजल की कीमतों, रुपए में गिरावट, महंगाई और नोटबंदी को लेकर भाजपा सरकार पर तीखे तंज कसे। उन्होंने पीएम मोदी पर तंज कसते हुए कि धनुष्य बाण चलाने के लिए 56 इंच का सीना नहीं बल्कि भुजाओं का बल लगता है। यदि विष्णु के ग्यारहवें अवतार होने के बावजूद महंगाई नहीं रोक सकते, तो सत्ता में बने क्यों हैं। उन्होंने कहा कि एनडीए गठबंधन के डीएनए में ही दोष आ गया है।  
 
पूर्व प्रधानमंत्री दिवंगत अटल बिहारी वाजपेयी और प्रमोद महाजन की यादें ताजे करते हुए उद्धव ने उनकी प्रशंसा की।  केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी के वादे वाले बयान का हवाला देते हुए उद्धव ने कहा कि झूठ बोलना महाराष्ट्र की संस्कृति नहीं है। झूठ-झूठ बोलकर देश को ज्वालामुखी पर लाकर खड़ा कर दिया गया है। यह ज्वालामुखी फट गया तो अनर्थ हो जाएगा। उन्होंने कहा कि हम अकेले चुनाव लड़ने का एेलान कर चुके हैं। फिर भी यदि साथ आना है तो मर्दो की तरह साथ आओ। उद्धव ने कहा कि शिवसेना वर्ष 2019 के चुनाव में लाल किले पर भगवा फड़काएगी। वर्ष 2014 की हवा अब खत्म हो गई है।
 
… नहीं तो सड़क पर उतरेगी शिवसेना 
उद्धव ने सीएम देवेंद्र फडणवीस पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा कि केंद्र और राज्य में भाजपा की सरकार है, बावजूद इसके फडणवीस राज्य में सूखा घोषित करने की धमक नहीं दिखा सकते। दूसरी ओर पडो़सी राज्य कर्नाटक ने सूखा घोषित कर दिया है। यदि जल्द महाराष्ट्र में सूखा घोषित नहीं किया गया, तो शिवसेना सड़क पर उतरेगी। 
Download PDF

Related Post