मोदी सरकार से देश को दिलाएंगे मुक्ति 

Download PDF
मुंबई। मनसे अध्यक्ष राज ठाकरे ने शनिवार को गुड़ी पड़वा के मौके पर दादर के शिवाजी पार्क आयोजित रैली में भाजपा सरकार के खिलाफ जमकर हमला बोला। राज ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह से भारत को मुक्ति दिलाने का एेलान किया है। राज का दावा है, बिना किसी नफे-फायदे का विचार किए, वे प्रदेशभर में भाजपा सरकार के विरोध में दस जनसभाओं का आयोजन करेंगे।
“पीएम मोदी की फेकू सरकार डिजीटल इंडिया का ढिंढोरा पीट रही है.”
राज ने पीएम मोदी को फेकू करार देते हुए कहा कि डिजीटल इंडिया का ढिंढोरा पीटा जा रहा है। विदर्भ के एक गांव को डिजीटल बनाने की योजना बनाई गई थी, वह जश के तश पड़ा हुआ है। पीएम मोदी गोहत्या और गोमांस को लेकर आवाज उठाते रहे, परंतु अब जाति-धर्म पर भाषण देते फिर रहे हैं। विकास, नोटबंदी और जीएसटी पर चुप्पी है। मोदी सरकार ने पिछले पांच वर्षों में जो भी घोषणाएं कीं, आज तक कोई भी पूरी नहीं हो सकी है।
सर्जिकल स्ट्राइक पर राज ने कहा कि अमेरिका का कहना है पाक के किसी लड़ाकू विमान को नुकसान नहीं हुआ है, जबकि भाजपा सरकार देशभर में लोगों की वाहवाही बटोरने का काम कर रही है। राज ने कहा कि नोटबंदी के कारण देश भर में लोग परेशान हुए, जबकि भाजपा ने दिल्ली में अपना सेवन स्टार मुख्यालय बना लिया। देशभर में भाजपा के दफ्तरों को हाई टेक किया जा रहा है। आंध्र प्रदेश के एक ठेकेदार के घर से नए नोटों के 33 करोड़ रुपए बरामद किए जाते हैं, जबकि भाजपा सरकार देश से कालाधन मिटाने की दुहाई दे रही है। भाजपा को देश से हटाने के लिए वे प्रचार करेंगे, इसका फायदा किसे होता है या किसे नहीं होता है, इसकी मनसे सैनिकों को कोई फर्क नहीं पड़ता।
राज ने कहा कि नोट बंदी के कारण देशभर में मध्यम व लघु उद्योग बंद हो गए। साढ़े चार करोड़ लोग बेरोजगार हो गए। राज ने मोदी सरकार पर पुरानी सरकार की योजनाओं को हथियाने का आरोप लगाते हुए कहा कि केवल योजनाओं का नाम बदलकर मोदी सरकार विज्ञापनों से सुर्खियां बटोर रही है। स्वच्छ गंगा, स्वच्छ भारत के नाम पर लोगों को बेवकूफ बनाया गया, जबकि सच्चाई है, गंगा आज भी मैली ही है। 
 
 
पार्टी कार्यकर्ताओं से भरे शिवाजी पार्क मैदान में राज ने कहा कि झूठी घोषणाओं का कोई जवाब न देना पड़े, इसलिए मोदी ने पांच वर्षों में एक भी प्रेस वार्ता नहीं की। पत्रकारों, संपादकों को डराया धमकाया जाता है और मीडिया मालिकों के दफ्तरों और घरों पर छापे डालने की धमकी दी जाती है। लोगों को 15 लाख रुपए देने की घोषणा करके सत्ता में आने वाली मोदी सरकार ने लोगों को ठगने का काम किया है। मोदी को अपने मंत्रिमंडल पर भी भरोसा नहीं है, जिसके चलते मीटिंग में मंत्रियों के मोबाइल तक जप्त करा लिए जाते हैं।
इस दौरान राज ठाकरे ने पूर्व मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चव्हाण और एनसीपी विधायक दल नेता अजीत पवार की भी आलोचना की। उन्होंने कहा कि हम किसी के समर्थन में नहीं, बल्कि भाजपा मुक्त भारत के लिए प्रदेश में बगैर किसी लालच के जनसभाएं करेंगे, ताकि जनता को भाजपा सरकार प्रति जागरूक किया जा सके। 
#MNS#Raj#Thackeray#Mumbai#Election#2019#Modi#Government#Free#India#6dnews#6dnews.com
Download PDF

Related Post