एलफिंस्टन ब्रिज हादसे के पीड़ित परिवारों को क्यों नहीं मिली नौकरी – विखे पाटिल

Download PDF

मुंबई।  एलफिंस्टन पुल हादसे  के पहली बरसी पर मृतकों के आश्रितों के नौकरी देने के मामले पर सवाल उठे हैं।विधानसभा में विपक्ष के नेता राधाकृष्ण विखे पाटिल ने राज्य सरकार और रेल मंत्रालय की मंशा पर सवाल उठाते हुए पूछा है आखिर हादसे के एक साल बाद भी पीड़ित परिवारों के एक सदस्य को नौकरी क्यों नहीं दी गई।

हादसे की पहली बरसी पर लोगों ने मृतकों को श्रद्धांजलि

एलफिंस्टन ब्रिज हादसे की पहली बरसी पर लोगों ने मृतकों को श्रद्धांजलि अर्पित की। ब्रिज पर भगदड़ मचने से 23 लोगों की मृत्यू हो गई थी और कई घायल हो गए थे। विखे पाटिल ने भी हादसे पर दुख जताते हुए मृतकों को श्रद्धाजंलि अर्पित की। विखे पाटिल ने कहा कि मृतकों के परिवार के एक सदस्य को रेलवे में नौकरी देने का आश्वासन दिया गया था। मुआवजे की राशि तो दे दी गई, लेकिन एक साल बाद भी नौकरी नहीं दी गई। इस संबंध में वे रेल मंत्री पीयूष गोयल को पत्र भी भेज चुके हैं। पश्चिम रेलवे के अतिरिक्त प्रबंधक राहुल जैन से मुलाकात करके रेल मंत्री को भेजा गए पत्र की प्रति सौंपी गई थी। मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस से भी अनुरोध किया गया था। परंतु सरकार और रेल प्रशासन असंवेदऩशील बना हुआ है।

विखे पाटिल ने कहा कि राज्य सरकार और रेलवे ने पीड़ितों की आर्थिक मदद की थी लेकिन यह सहायता पर्याप्त नहीं है। परिवार के भविष्य के सामने चुनौतियां खड़ी हैं। उन्हे स्थाई आधार देने की जरूरत है। अब रेलवे प्रशासन कह रहा है कि हमने नौकरी का कोई आश्वासन नहीं दिया था।

Download PDF

Related Post