शासकीय महाविद्यालयों के लिए विश्व बैंक देगा 204 करोड़

Download PDF

भोपाल, उच्च शिक्षा मंत्री श्री जयभान सिंह पवैया ने बताया है कि प्रदेश के चयनित 152 शासकीय महाविद्यालयों की संस्थागत विकास योजनाओं के लिये विश्व बैंक प्रथम चरण में 204 करोड़ रूपये देगा। चयनित महाविद्यालयों को आवश्यकतानुसार औसतन 7 से 10 करोड़ रुपये तक की राशि इस परियोजना में स्वीकृत की जायेगी। श्री पवैया ने कहा कि विश्व बैंक सहायतित इस परियोजना में वित्तीय सहायता के लिये उच्च शिक्षा विभाग और महाविद्यालय के बीच एमओयू साइन होगा।

परियोजना के प्रथम चरण में आईडीपी में शामिल महाविद्यालयों में भोपाल के शा. सरोजनी नायडू गर्ल्स पीजी कॉलेज, गीतांजलि शा. गर्ल्स पीजी कॉलेज, आदर्श मोतीलाल विज्ञान महाविद्यालय, इंस्टीट्यूट फॉर एक्सीलेंस, स्वामी विवेकानंद कॉलेज, बैरसिया, एमएलबी गर्ल्स पीजी कॉलेज, हमीदिया पीजी कॉलेज, बेनजीर कॉलेज, शासकीय कॉलेज नरेला और शासकीय ऑर्ट एण्ड कॉमर्स कॉलेज शामिल हैं।

मंत्री श्री पवैया ने जानकारी दी कि चयनित महा‍विद्यालयों में 64 से 69 तक अंक प्राप्त करने वाले 40 महाविद्यालयों को शामिल किया गया है। पहले 70 एवं 70 से अधिक अंक प्राप्त करने वाले 112 महाविद्यालयों को ही इन्स्टीट्यूशनल डेव्हलपमेंट प्रोजेक्ट (आईडीपी) में शामिल किया गया था। उन्होंने बताया कि इस परियोजना में 438 महाविद्यालयों का मूल्यांकन किया गया। परियोजना के दूसरे चरण में अन्य 50 महाविद्यालय शामिल होंगे।

परियोजना के प्रथम चरण में आईडीपी में शामिल महाविद्यालयों में भोपाल के शा. सरोजनी नायडू गर्ल्स पीजी कॉलेज, गीतांजलि शा. गर्ल्स पीजी कॉलेज, आदर्श मोतीलाल विज्ञान महाविद्यालय, इंस्टीट्यूट फॉर एक्सीलेंस, स्वामी विवेकानंद कॉलेज, बैरसिया, एमएलबी गर्ल्स पीजी कॉलेज, हमीदिया पीजी कॉलेज, बेनजीर कॉलेज, शासकीय कॉलेज नरेला और शासकीय ऑर्ट एण्ड कॉमर्स कॉलेज शामिल हैं।

Download PDF

Related Post