कांग्रेस ने मानसून सत्र में सरकार को घेरने की बनाई रणनीति

Download PDF

मुंबई- जनता के ज्वलंत मुद्दों को लेकर कांग्रेस ने राज्य सरकार को मानसून सत्र में घेरने की रणनीति बनाई है। पार्टी प्रदेश अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अशोक चव्हाण ने प्रदेश के ज्वलंत मसलों को लेकर सत्ता पक्ष को सदन में घेर कर, जनता को न्याय दिलवाने का आदेश पार्टी विधायकों को दिया है।

पूर्व मुख्यमंत्री अशोक चव्हाण के नेतृत्व में बुधवार को विधान भवन के पार्टी कार्यालय में कांग्रेस विधानमंडल समन्वय समिति की बैठक हुई। बैठक में राज्य के विभिन्न मसलों पर विस्तार से चर्चा की गई। भाजप-शिवसेना युति सरकार हर मोर्चे पर विफल हो रही है। सरकार के विरोध में जनता में तीव्र असंतोष है। कई ज्वलंत प्रश्न लंबित हैं। इन समस्याओं को लेकर आक्रमकता के साथ मानसून सत्र में सरकार को घेरने का निर्देश चव्हाण ने पार्टी विधायकों को दिया।

उपराजधानी नागपुर में 4 जुलाई से मानसून सत्र शुरू होने जा रहा है। इससे पहले कांग्रेस ने सरकार को घरने के लिए रणनीति बनाई। पूर्व मुख्यमंत्री अशोक चव्हाण के नेतृत्व में बुधवार को विधान भवन के पार्टी कार्यालय में कांग्रेस विधानमंडल समन्वय समिति की बैठक हुई। बैठक में राज्य के विभिन्न मसलों पर विस्तार से चर्चा की गई। भाजप-शिवसेना युति सरकार हर मोर्चे पर विफल हो रही है। सरकार के विरोध में जनता में तीव्र असंतोष है। कई ज्वलंत प्रश्न लंबित हैं। इन समस्याओं को लेकर आक्रमकता के साथ मानसून सत्र में सरकार को घेरने का निर्देश चव्हाण ने पार्टी विधायकों को दिया। उन्होंने कहा कि जनता की समस्याओं का हल निकाला जाना चाहिए।

बैठक में अशोक चव्हाण के अलावा विधान सभा में विपक्ष के नेता राधाकृष्ण विखे पाटिल, विधान परिषद के गट नेता शरद रणपिसे, एमएलसी संजय दत्त,  भाई जगताप, जोगेंद्र कवाडे, सुनिल केदार, डीपी सावंत, अमर राजूरकर, बसवराज पाटिल, चंद्रकांत रघुवंशी, विधान मंडल कांग्रेस पार्टी के समन्वयक संजय खोडके आदि मौजूद थे।

Download PDF

Related Post