चार महीने में उपलब्ध होंगी म्हाडा की जली फाइलें 

Download PDF
मुंबई- गृह निर्माण मंत्री प्रकाश मेहता ने जानकारी दी है कि नवी मुंबई के शील कंपनी की इमारत में लगी आग में नष्ट हो गई म्हाडा की फाइलें आगामी चार महीने में उपलब्ध हो जाएंगी। उन्होंने कहा कि इस अग्निकांड में 17 हजार 990 फाइलें जलकर खाक हो गई जबकि 4 हजार 749 फाइलें पानी में भीगकर खराब हो गई।
भाजपा विधायक आशिष शेलार ने मंगलवार को नागपुर विधानसभा में प्रश्नकाल में यह मुद्दा उठाया। गृह निर्माण मंत्री प्रकाश मेहता ने अपने लिखित जवाब में बताया कि नवी मुंबई के महापे स्थित शील प्रोजेक्ट लिमिटेड कंपनी की इमारत में आग लगी थी। फाइलें सुरक्षित रखने के लिए कंपनी और म्हाडा के बीच 12 अक्टुबर 2012 में करार किया गया था। समझौते के तहत म्हाडा की 5 लाख 34 हजार 476 फाइलें जतन के लिए कंपनी को दी गई थी।
मंत्री मेहता के मुताबिक इनमें से कुल 17 हजार 990 फाइलें आग में जल गई, जबकि 4 हजार 749 फाइल पानी से भीग गई। सभी फाइलों की प्रति आनेवाले चार महीने में कंपनी उपलब्ध कराएगी। इसके लिए लगनेवाले खर्च कंपनी उठाएगी। इस मामले में रबाले एमआईडीसी पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई गई है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।
Download PDF

Related Post