महंगे पेट्रोल और डीजल के खिलाफ कांग्रेस का साइकिल मार्च

Download PDF
मुंबई- पेट्रोल और डीजल की ज्यादा कीमतों को लेकर कांग्रेस ने गुरुवार को भाजपा सरकार के खिलाफ साइकिल मार्च निकालने का फैसला किया है। पार्टी के मुंबई अध्यक्ष संजय निरूपम के नेतृत्व में महालक्ष्मी रेसकोर्स से गिरगांव चौपाटी तक साइकिल रैली निकाली जाएगी, जिसमें पार्टी के वर्तमान व पूर्व सांसद, विधायक, नगरसेवक, पदाधिकारी और कार्य़कर्ता बड़ी संख्या में शामिल होंगे।
जब कांग्रेस सरकार थी तब कच्चे तेल का दाम विश्व बाजार में 120 से 125 डॉलर प्रति बैरल था। ऐसा होते हुए भी कभी पेट्रोल और डीजल की दरें 55 रुपए प्रति लीटर से अधिक नहीं हुई। आज कच्चे तेल की कींमत 70 से 80 डॉलर प्रति बैरल है, बावजूद इसके पेट्रोल और डीजल के दाम आसमान छू रहे हैं – निरूपम
निरुपम के अनुसार पूरा देश पेट्रोल और डीजल की दरवृद्धि से त्रस्त है। मुंबई में पेट्रोल और डीजल की दरें सबसे ज्यादा हैं। लिहाजा सरकार को जगाने के लिए यह रैली निकाली जाएगी। पेट्रोल, डीजल और पेट्रोलियम पदार्थ को जीएसटी में शामिल करने की मांग को लेकर महालक्ष्मी रेसकोर्स से गिरगांव चौपाटी तक विशाल साइकिल रैली निकाली जाएगी। निरुपम ने कहा कि मुंबई में मौजूदा समय में पेट्रोल का दाम 81 रुपए प्रति लीटर और डीजल की दर 68 रुपए प्रति लीटर है। मुंबई के लोगों ने क्या गुनाह किया है कि उन्हें अनावश्यक दर वृद्धि की मार झेलनी पड़ रही है। कच्चे तेल की कीमतें वैश्विक बाजार में कम होने के बावजूद भी ज्यादा से ज्यादा टैक्स लगाकर दाम बढ़ाए गए हैं।
निरूपम के मुताबिक जब कांग्रेस सरकार थी तब कच्चे तेल का दाम विश्व बाजार में 120 से 125 डॉलर प्रति बैरल था। यैसा होते हुए भी कभी पेट्रोल और डीजल की दरें 55 रुपए प्रति लीटर से अधिक नहीं हुई। आज कच्चे तेल की कींमत 70 से 80 डॉलर प्रति बैरल है, बावजूद इसके पेट्रोल और डीजल के दाम आसमान छू रहे हैं। इसका मुख्य कारण है कि पेट्रोल, डीजल और पेट्रोलियम पदार्थों पर अनावश्यक टैक्स लगाए जा रहे हैं। लोगों की जेब काटी जा रही है। पेट्रोल, डीजल और पेट्रोलियम पदार्थो को जल्द से जल्द जीएसटी के दायरे में लाया जाना चाहिए।
Download PDF

Related Post