महाराष्ट्र में प्लास्टिक और थर्माकोल पर प्रतिबंध

Download PDF
मुंबई- प्रदुषण और नालों में होनेवाले चॉकअप के कारण पूरे महाराष्ट्र में प्लास्टिक और थर्माकोल पर पांबदी लगा दी गई है। इस संबंघ में राज्य सरकार ने अधिसूचना जारी कर दी है। यह जानकारी पर्यावरण मंत्री रामदास कदम ने दी है। 
पानी की बड़ी बोतल पर प्रतिबंध लगाने के बारे में अगले 3 महीनों में निर्णय लिया जाएगा। पर्यावरण मंत्री के मुताबिक जिनके पास थर्माकोल और प्लास्टिक का भंडार बड़ी मात्रा में है, उनकी मांग पर उन्हें कुछ समय के लिए राहत दी गई है।
 
कदम ने शनिवार को पत्रकारों से बातचीत में बताया कि प्रदेशभर में 800 टन प्लास्टिक कचरा जमा होता है। लाखों टन कचरा सड़क के इर्द-गिर्द पड़ा रहता है, जिससे लोगों के स्वास्थ्य पर विपरीत परिणाम होता है। सांस फूलने के साथ ही दमे, कैंसर और फेफड़े की बीमारी बढ़ रही है। नालों में कचरा जाम होने के साथ प्रदूषण की समस्या भी निर्माण होती है। पर्यावरण मंत्री ने बताया कि इस साल के गुड़ी पाड़वा से प्लास्टिक और थर्माकोल पर पाबंदी लगाने का निर्णय सरकार ने लिया था। अब इस आशय की सरकारी अधिसूचना जारी कर दी गई है।  उन्होंने कहा कि शाजी समारोह या प्रायोजनों में सजावट के लिए थार्माकोल पर प्रतिबंध है।
http://www.miseenscene.co.in
http://www.miseenscene.co.in

पानी के बोतल पर भी प्रतिबंध रहेगा। मंत्रालय में बोतल को नष्ट करने की मशीनरी बिठाने का निर्णय भी लिया गया है। पानी की बड़ी बोतल पर प्रतिबंध लगाने के बारे में अगले 3 महीनों में निर्णय लिया जाएगा। पर्यावरण मंत्री के मुताबिक जिनके पास थर्माकोल और प्लास्टिक का भंडार बड़ी मात्रा में है, उनकी मांग पर उन्हें कुछ समय के लिए राहत दी गई है। प्लास्टिक और थर्माकोल उद्योग में काम करने वाले हजारों कर्मियों का सहानुभूतिपूर्वक विचार किया जाएगा। कामगारों को रोजगार उपलब्ध कराने के प्रयास किया जाएगा।

पर्यावरण मंत्री के अनुसार प्लास्टिक कैरी बैग के विकल्प के तौर पर महिला बचत गुटों को कपड़े की थैलियां उत्पादित करने का काम दिया गया है। इसके लिए   5 करोड रुपए की सहायता दी गई है। शीघ्र बाजारों में कपड़े की थैलियां मिलने लगेंगी। प्रदेश के सभी जिलों के पालक मंत्रियों को कपड़े की थैलियां बनवाने के लिए बचत गुटों को कुछ निधि उपलब्ध कराने की सूचना दी गई है। प्लास्टिक और थर्माकोल पर प्रतिबंध लगाने के फैसले का मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस, शिवसेना पक्षप्रमुख उद्धव ठाकरे, आदित्य ठाकरे, अमृता फडणवीस, अभिनेत्री जूही चावला सहित पर्यावरण क्षेत्र में काम कर रही संस्थाओं ने स्वागत किया है। 
Download PDF

Related Post