यूपी स्थापना दिवस के बहाने भाजपा का मुंबई में शक्ति प्रदर्शन

Download PDF

मुंबई-  लोकसभा चुनाव से पहले यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मुंबई में भाजपा का दमखम दिखाया। उत्तर भारतीयों को नजदीक लाने के लिए भाजपा से जुड़ी सामाजिक संस्था अभियान के मार्फत मुंबई के सांताक्रूज में गुरुवार को उत्तर प्रदेश स्थापना दिवस मनाया गया, जिसमें यूपी के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस और यूपी के राज्यपाल राम नाईक एक मंच पर नजर आए। 

फडणवीस ने हिंदी में किया भाषण, कहा कि उत्तर भारतीय पर हमले करने वालों पर त्वरित की कार्रवाई

यह आयोजन मुंबई भाजपा के महासचिव और अभियान संस्था के ट्रस्टी, अमरजीत मिश्रा ने पहली बार दोनों राज्यों के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस और योगी आदित्यनाथ को एक मंच पर आमंत्रित किया था। आयोजकों ने इसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ‘एक भारत- श्रेष्ठ भारत’ की संकल्पना का नाम दिया था। बड़ी संख्या में जुटे उत्तर भारतीयों को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने हिंदी में कहा कि पिछले साढ़े चार वर्षों में किसी उत्तर भारतीय पर हमले नहीं हुए। यदि कोई उन्हें को धमकी देने की हिम्मत करता है, तो उस पर कार्रवाई की जाएगी। सीएम फडणवीस ने कहा कि जो लोग मुंबई में पिछली तीन पीढ़ियों से निवास कर रहे हैं, वे अब महाराष्ट्रियन हैं। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी ने मुख्यमंत्री फडणवीस की जमकर सराहना की। 

योगी ने कहा कि फडणवीस के अधीन गृह विभाग भी है, वे अच्छी तरह से अपना काम कर रहे हैं। योगी ने कहा कि कुछ लोग कुंभ मेले में खलल डालने की साजिश रच रहे थे, उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। अन्यथा, हम उन्हें यूपी की सीमा पार करने से पहले ही खत्म कर देते। यूपी के मुख्यमंत्री ने कहा कि बदमाशों और अपराधियों के लिए कोई जगह नहीं है। इस पर अंकुश लगना चाहिए। योगी ने दावा किया कि भाजपा सरकार में महाराष्ट्र और यूपी में एक भी दंगे नहीं हुए। हम जानते हैं कि हिंसा में लिप्त लोगों की कैसे मानसिकता बदली जाए। 
राज्यपाल राम नाईक ने कहा कि उत्तर प्रदेश ‘सर्वोत्तम प्रदेश’ बनने की राह पर चल रहा है। उन्होंने कहा कि मुंबई में उत्तर भारतीय नागरिकों द्वारा उत्तर प्रदेश स्थापना दिवस समारोह का आयोजन किया जाता रहा है जबकि उत्तर प्रदेश में 68 वर्षों तक सरकारी स्तर पर आयोजन नहीं होता था। मुख्यमंत्री योगी ने उनके सुझाव को माना और स्थापना दिवस की शुरूआत की। राज्यपाल ने कहा कि गत वर्ष उत्तर प्रदेश दिवस के आयोजन के बाद विभिन्न प्रदेशों में निवास कर रहे उत्तर प्रदेश के निवासियों ने पत्र व संदेश भेजकर उन्हें बधाई भेजी थी। 

राज्यपाल ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी ने कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए हैं। इस वर्ष के कुम्भ की विशेषता है कि कुम्भ इलाहाबाद में नहीं प्रयागराज में हो रहा है। फैजाबाद का भी नाम अयोध्या किया गया है। 2018 में संपन्न हुए इन्वेस्टर्स समिट में निवेशकों ने उत्तर प्रदेश के प्रति विश्वास जताते हुए 4.28 लाख करोड़ रुपए का निवेश का प्रस्ताव देकर रूचि दिखाई। कानून एवं व्यवस्था में व्यापक सुधार हुआ है जिसके कारण उत्तर प्रदेश की नई पहचान बनी है। इससे पहले सीएम योगी और राज्यपाल राम नाईक ने लखनऊ में आयोजित यूपी स्थापना दिवस में शिरकत की और इसके बाद वे मुंबई पहुंचे थे। लखनऊ के अवध शिल्प ग्राम में आयोजित कार्यक्रम में विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना का शुभारंभ करने के साथ ही अनेक योजनाओं का शिलान्यास दोनों ने किया। 
मुंबई में आयोजित स्थापना दिवस समारोह में भोजपुरी फिल्म कलाकार रविकिसन, दिनेश लाल यादव, पत्रकार विमल मिश्र, राजकुमार सिंह, शिक्षाविद्य डॉ. एलआर यादव, राजेंद्र चतुर्वेदी, लेखिका शशिकला राय और आनंद सिंह सहित तमाम हस्तियों को सम्मानित किया गया। भोजपुरी की लोकगायिका मालिनी अवस्थी ने अपने मधुर गीतों की प्रस्तुति दी। 

Download PDF

Related Post