पुणे रोडवेज के बेड़े में शामिल हुई टाटा की अत्याधुनिक बसें

Download PDF

मुंबई। भारत की कॉमर्शियल वाहन कंपनी टाटा मोटर्स ने शनिवार को पुणे महानगर परिवहन महामंडलमिटेड (पीएमपीएमएल) को 6 महिला-हितैषी टाटा अल्‍ट्रा 9 एम डीजल मिडि बसों की डिलीवरी करने की घोषणा की है। ये बसें सीसीटीवी कैमरा और इंटेलीजेंस ट्रांसपोर्ट सिस्‍टम्‍स (आइटीएस), फायर डिटेक्‍शन और सप्रेशन सिस्‍टम सहित अत्याधुनिक खूबियों से सुसज्जित हैं। टाटा मोटर्स चरणबद्ध तरीके से कुल 33 बसों के ऑर्डर में से शेष 27 बसों की डिलीवरी मार्च 2019 तक करेगा।

33 बसों के ऑर्डर

यह बसें टाटा मोटर्स के नए अल्‍ट्रा प्‍लेटफॉर्म पर बनाई गई हैं। इन बसों को ड्राइवर की थकान कम करने के लिए ऑटोमेटेड मैनुअल ट्रांसमिशन (एएमटी) टेक्‍नोलॉजी के साथ डिजाइन किया गया है। बसें कुशल एवं यूजर फ्रैंडली वाहन रखरखाव एवं ट्रैकिंग के लिए नए जनरेशन की टेलीमैटिक्‍स से लैस हैं। कंपनी ने सार्वजनिक परिवहन में क्रांति लाने की अपनी प्रतिबद्धता को जारी रखा है। नए अल्‍ट्रा प्‍लेटफॉर्म पर निर्मित इन बसों द्वारा प्रत्‍येक हितधारक- ड्राइवर, यात्री और ऑपरेटर की जरूरतों को पूरा किया गया है। ऑटोमेटेड मैनुअल ट्रांसमिशन (एएमटी) टेक्‍नोलॉजी ड्राइवरों को शानदार अनुभव प्रदान करती है और उन्‍हें बिना किसी थकान के बस चलाने में सक्षम बनाती हैं। 

कंपनी के मुताबिक महिला यात्रियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए, बस फायर डिटेक्‍शन एवं सप्रेशन सिस्‍टम (एफडीएसएस) जैसी श्रेणी में सर्वश्रेष्‍ठ खूबियों से सुसज्जित है। सीसीटीवी कैमरा जीपीएस के माध्‍यम से सपोर्टेड इलेक्‍ट्रॉनिक डेस्टिनेशनल डिस्‍प्‍ले बोर्ड्स के अलावा सार्वजनिक जानकारी के लिए इंटेलीजेंस ट्रांसपोर्ट सिस्‍टम्‍स (आइटीएस) मुहैया कराए गए हैं। इनबिल्‍ट टेलीमैटिक्‍स सिस्‍टम के साथ, वाहन स्‍टेट ट्रांसपोर्ट यूनिट्स (एसटीयू) को ज्‍यादा कनेक्‍टेड अनुभव प्रदान करता है और इस तरह परिचालन दक्षता बढ़ती है। वाहन का रखरखाव एवं ट्रैकिंग करना यूजर-फ्रैंडली होता है। इन बसों को महाराष्‍ट्र सरकार की तेजस्विनी योजना के अंतर्गत खासतौर से महिला यात्रियों के लिए बनाया व कस्‍टमाइज किया गया है। 

Download PDF

Related Post